ये महिला 7 बच्चे पैदा कर बनाना चाहती थी ISIS के खूंखार आतंकी,  वजह भी बताई

Tuesday, November 7, 2017 4:33 PM
ये महिला 7 बच्चे पैदा कर बनाना चाहती थी ISIS के  खूंखार आतंकी,  वजह भी बताई

लंदनः ब्रिटेन की एक एेसी महिला दुनिया के सामने आई है जो 7 बच्चे पैदा कर उन्हें खूंखार आतंकी बनाना चाहती थी। ये खुलासा किया है है तानिया जॉर्जलस नामक एक महिला ने जिसने अमरीका के सबसे सीनियर ISIS सदस्य से शादी की थी। 33 साल की तानिया ने पहली बार बताया कि कैसे वह  ISIS  के प्रभाव में आई और क्यों कट्टरपंथी विचारधारा को अपनाया। ISIS सदस्य से शादी करने के बाद महिला ने यह भी ख्वाब देखा था कि वह 7 बच्चे पैदा करेगी, जो दुनिया के अलग-अलग महाद्वीप में  ISIS के खूंखार आंतकियों के रूप में काम करेंगे। 

PunjabKesari

तानिया का कहना है कि ब्रिटेन में उसे भेदभाव का सामना करना पड़ा जिसकी वजह से उसके भीतर पश्चिमी देशों को लेकर नफरत का भाव पैदा हुआ। महिला ने बताया कि वह खुद के लिए सम्मान चाहती थी, इसी वजह से वह जॉन जॉर्जलस से मिली जो अमरीका में जन्मा था, लेकिन इस्लाम को अपना लिया था।  जॉन के साथ महिला के चार बच्चे हुए और वह सीरिया भी गई। महिला ने कहा- 'मैं ये बच्चे एक कारण से चाहती थी  ताकि वे मुस्लिम के रूप में अल्लाह के लिए काम करें, मुजाहिद्दीन बनें। 

PunjabKesariतानिया का जन्म ब्रिटेन के हैरो में हुआ था। उसके माता-पिता ब्रिटिश-बांग्लादेशी कपल थे। तानिया का कहना है कि 11 सितंबर 2001 की घटना की वजह से वह रेडिकल होने लगी। 17 साल की उम्र में ही उसका रुझान कट्टरपंथ की तरफ हो गया था। बाद में वह ईराक वार के खिलाफ एक प्रदर्शन में गई थी, जहां उसे एक मुस्लिम मैचमेकिंग वेबसाइट का पता दिया गया था। इसी से वह जॉन से मिली।

PunjabKesariसीरिया जाने के बाद वह अपने बच्चों के साथ वापस लौट गई। तानिया ने अब  ISIS को छोड़ दिया है और अमरीका में एक आईटी प्रोग्रामर को डेट कर रही है। टेक्सास में एक आम अमरीकी की तरह जिंदगी जीने की कोशिश कर रही तानिया कट्टरपंथ छोड़ चुके लोगों के डि-रेडिकल होने पर काम करना चाहती है।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!