सऊदी अरब के शाह ने PAK पीएम से पूछा: आप हमारे साथ हैं या कतर के साथ

Wednesday, June 14, 2017 5:10 PM
सऊदी अरब के शाह ने PAK पीएम से पूछा: आप हमारे साथ हैं या कतर के साथ

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के साथ एक मुलाकात में सऊदी अरब के शाह सलमान ने उनसे सवाल पूछा,आप हमारे साथ हैं या कतर के साथ? शरीफ कतर संकट का कूटनीतिक समाधान तलाशने के लिए खाड़ी देश गए थे।


कतर के मामले में पाक अपनी स्थिति को साफ करे
एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने राजनयिक सूत्रों के हवाले से कहा कि सऊदी अरब के शाह ने सोमवार को जेद्दा में शरीफ से मुलाकात के दौरान उनसे कहा कि कतर के मामले में पाकिस्तान अपनी स्थिति को साफ करे। अखबार में कहा गया है, जब रियाद ने इस्लामाबाद से पूछा कि आप हमारे साथ हैं या कतर केे तो इस पर पाकिस्तान ने सऊदी अरब को जवाब दिया कि पश्चिम एशिया में बढ़ते राजनयिक संकट के बीच वह किसी एक का पक्ष नहीं लेगा। 


कतर के साथ सऊदी तथा अन्य खाड़ी देशों के राजनयिक संपर्क खत्म कर लेने के बाद से पाकिस्तान बड़े एहतियात के साथ कदम उठा रहा है। इन देशों का आरोप है कि तेल सम्पन्न कतर आतंकी समूहों को समर्थन देता है। हालांकि अखबार की खबर के मुताबिक सऊदी अरब चाहता है कि पाकिस्तान उसका साथ दे। जेद्दा में शाही भवन में शरीफ और सऊदी शाह के बीच हुई बातचीत की जानकारी रखने वाले एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से अखबार ने कहा कि पाकिस्तान मुस्लिम जगत में मतभेद उत्पन्न करने वाली किसी भी घटना में किसी एक का पक्ष नहीं लेगा। इसमें कहा गया, फिर भी, सऊदी अरब को शांत करने के लिए पाकिस्तान कतर पर अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर हालात को शांत करने की पेशकश करता है। 


इसके लिए प्रधानमंत्री कुवैत, कतर और तुर्की जाएंगे। इस दौरे पर शरीफ के साथ सैन्य प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी थे। खाड़ी जगत में बन रहे हालात पर चर्चा के लिए वे सोमवार को जेद्दा पहुंचे थे। एक आधिकारिक वक्तव्य के मुताबिक जेद्दा में शरीफ ने शाह सलमान से मुलाकात की और सभी मुस्लिमों के हित के लिए खाड़ी में जारी गतिरोध के जल्द समाधान की मांग की। सऊदी प्रेस एजेंसी ने बताया कि शाह सलमान और शरीफ ने द्विपक्षीय संबंधों के अलावा वर्तमान में क्षेत्र में बने हालात पर भी चर्चा की।सलमान ने शरीफ से कहा कि कट्टरपंथ तथा आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई सभी मुस्लिमों के हित में है।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!