आज ही अपनाएं ये वास्तु टिप्स, बच्चों की स्मरण शक्ति में होगी वृद्धि

Sunday, February 26, 2017 12:34 PM
आज ही अपनाएं ये वास्तु टिप्स, बच्चों की स्मरण शक्ति में होगी वृद्धि

बच्चों की परीक्षाएं नजदीक हैं। इस समय माता-पिता, टीचर सभी इसी प्रयास में रहते हैं कि बच्चों के अच्छे नंबर आ जाएं। वास्तु शास्त्र में कुछ ऐसे उपाय दिए गए हैं। जिन पर अमल करने से बच्चों की मानसिक शक्ति में इजाफा हो सकता है। जिससे विद्यार्थी पढ़ाई में अच्छे नंबर ले सकते हैं। 

 

अध्ययन कक्ष सदैव उत्तर-पश्चिम दिशा में होना चाहिए। पढ़ते समय मुख पूर्व दिशा की अोर रखें। इससे एकाग्रता बनी रहती है। जब एकाग्रता बनी रहती है तो याद भी शीघ्र होता है अौर अधिक समय तक स्मरण रहता है। 

 

अध्ययन करते समय कुर्सी पर सीधे बैठे। ऐसा करने से पीठ में मौजूद मेरूरज्जू का वह भाग ज्यादा सक्रिय रहेगा जो याद करने की क्षमता में वृद्धि करता है। 

 

अध्ययन कक्ष में माता सरस्वती अौर श्रीगणेश जी का चित्रपट लगाएं। इसके साथ ही प्राकृतिक चित्र जैसे हिल स्टेशन का चित्र लगाएं। इससे अध्ययन कक्ष का माहौल सकारात्मक रहेगा अौर पढ़ाई में मन लगेगा। 

 

इसके अतिरिक्त अध्ययन कक्ष में महान वैज्ञानिकों के चित्र लगाएं। जिससे विद्यार्थियों के मन में हार न मानने वाली भावना पैदा होगी। बच्चे बिना किसी आलस्य से एकाग्र होकर अध्ययन करेंगे। 
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!