भारतनेट में निजी कंपनियां भी देंगी सेंवाएं, BBN का दूसरा चरण शुरू

Monday, November 13, 2017 4:49 PM
भारतनेट में निजी कंपनियां भी देंगी सेंवाएं, BBN का दूसरा चरण शुरू

नई दिल्लीः देश के एक लाख ग्राम पंचायतों में अगले महीने से ब्रॉडबैंड सेवा शुरू हो जाएगी और इसमें निजी क्षेत्र के दूरसंचार ऑपरेटर भी सेवाएं देंगे तथा ग्रामीणों को 75 फीसदी तक सस्ता ब्रॉडबैंड कनेक्शन मिलेगा।

ये कंपनियां देंगी सेवाएं
दूरसंचार विभाग ने भारतनेट ढांचे से लाभ उठाने और इसके विविध आयामों के बारे में चर्चा के लिए राज्य सरकारों और सेवा प्रदाताओं के साथ मिलकर राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जिसका इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद, संचार मंत्री मनोज सिन्हा और केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने शुभारंभ किया। सम्मेलन में राज्यों के सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री और सूचना प्रौद्योगिकी सचिवों ने भाग लिया और कई राज्यों ने इस संबंध में करार किया। इस मौके पर भारती एयरटेल, रिलायंस जियो, वोडाफोन इंडिया और आइडिया सेलुलर जैसी दूरसंचार कंपनियों ने भारतनेट ढांचे का उपयोग कर ग्रामीण क्षेत्रों में ब्रॉडबैंड सेवाएंं देने का करार किया।

भारत नेट के दूसरे चरण की शुरुआत
इस मौके पर श्री सिन्हा ने कहा कि भारतनेट के पहले चरण में एक लाख ग्राम पंचायतों में ऑप्टिकल फाइबर कनेक्टीविटी उपलब्ध कराई गई है और अगले महीने तक देश के तीन लाख गांवों में ब्रॉडबैंड सेवा शुरू हो जाएगी। उन्होंने कहा कि केरल, कर्नाटक और केन्द्र शासित प्रदेशों के सभी ग्राम पंचायतों में भारतनेट पहुंच गया है और देश के शेष राज्यों में दूसरे चरण में सभी ग्राम पंचायतों में यह पहुंचेगा। मार्च 2019 तक देश के सभी 2.5 लाख ग्राम पंचायतों में यह सेवा शुरू हो जाएगी और इसी लक्ष्य के साथ आज भारत नेट के दूसरे चरण की शुरुआत की गई है। उन्होंने कहा कि पहले चरण के तहत काम पूरा करने के लिए पिछले छह माह में तेजी आई। भारतनेट के पहले चरण में देश के कई राज्यों की एक लाख से अधिक ग्राम पंचायतों में ऑप्टिकल फाइबर कनेक्टीविटी उपलब्ध कराई गई है। दिसंबर 2017 तक सभी एक लाख ग्राम पंचायतों में भारतनेट ढांचा काम करना शुरू कर देगा। वर्तमान में 90 हजार से अधिक पंचायतों में कार्य हो चुका है। 
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!