गुजरात-हिमाचल चुनाव के बाद बैंकों के मर्जर का रोडमैप पेश कर सकती है सरकार

Sunday, November 5, 2017 1:23 PM
गुजरात-हिमाचल चुनाव के बाद बैंकों के मर्जर का रोडमैप पेश कर सकती है सरकार

नई दिल्लीः गुजरात-हिमाचल चुनावों के बाद मोदी सरकार पब्लिक सेक्टर बैंकों के मर्जर का रोडमैप पेश कर सकती है। जिसके जरिए 31 मार्च तक नए बैंकों का स्वरूप सामने आ सके। इसके लिए वित्त मंत्रालय ने बैंकों के प्रमुखों के साथ अगले हफ्ते में बैठक बुलाई है।

अगले हफ्ते होगी बैठक
बैंकिंग इंडस्ट्री से जुड़े सूत्र के अनुसार सभी पब्लिक सेक्टर बैंकों के प्रमुखों की अगले हफ्ते वित्त मंत्रालय ने बैठक बुलाई है। जिसमें बैंकों के मर्जर प्लान के रोडमैप पर चर्चा होगी। सरकार गुजरात और हिमाचल चुनाव के बाद बैंकों के मर्जर प्लान का ऐलान कर सकती है। उसकी कोशिश है कि अगले वित्त वर्ष यानी एक अप्रैल 2018 से नए बैंकों का स्वरूप सामने आ सके। सूत्रों के अनुसार वित्त मंत्रालय का मानना है कि 2.1 लाख करोड़ रुपए की पूंजी सहायता देने से पहले बैंकों के मर्जर का रोडमैप तैयार किया जा सके जिससे कि फंड डिस्ट्रिब्यूशन का प्लान तैयार हो सके।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!