डेढ़ गुणा होगी दिल्ली हवाई अड्डे की परिचालन क्षमता

Friday, April 21, 2017 10:56 AM
डेढ़ गुणा होगी दिल्ली हवाई अड्डे की परिचालन क्षमता

नई दिल्ली: दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर प्रति घंटा टेकऑफ/लैंडिंग की क्षमता अगले 2-3 साल में बढ़ाकर डेढ़ गुना की जाएगी और सरकार ने इसके लिए एक ‘उड़ान परिचालन समिति’ बनाने  का निर्णय किया है । नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने इस संबंध में हवाई अड्डे का संचालन करने वाली कंपनी दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा लि. (डायल), यहां से परिचालन करने वाली एयरलाइंस, ए.टी.सी. तथा मंत्रालय के अधिकारियों और ब्रिटेन की एयर नेविगेशन सेवा प्रदाता कंपनी नैट्स के प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक की। बैठक के बाद उन्होंने संवाददाताओं को बताया कि इसमें दिल्ली हवाई अड्डे की परिचालन क्षमता बढ़ाने के रोडमैप पर चर्चा हुई।

14.91 प्रतिशत बढ़ी हवाई यात्रियों की संख्या
देश में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या मार्च में 14.91 प्रतिशत बढ़ कर 90.45 लाख पर पहुंच गई। पिछले साल मार्च में 78.72 लाख यात्रियों ने घरेलू मार्गों पर यात्रा की थी। पिछले लगातार 2 महीने से देश में हवाई यात्रियों की संख्या में वृद्धि की दर 20 प्रतिशत से नीचे रही है। सितम्बर 2015 के बाद यह पहला अवसर है जब यह दर 15 प्रतिशत से कम रही है। साल के पहले 3 महीने में यात्रियों की संख्या 18.59 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 2,72,79,000 दर्ज की गई।

पैरिस, एम्सटर्डम के लिए सीधी उड़ान शुरू करेगी जैट एयरवेज
विमान सेवा कंपनी जैट एयरवेज ने 2 अंतर्राष्ट्रीय मार्गों चेन्नई-पैरिस और बेंगलूरू-एम्सटर्डम पर सीधी उड़ानें शुरू करने की घोषणा की। एयरलाइंस ने बताया कि इन दोनों उड़ानों के शुरू होने के बाद एयर फ्रांस, के.एल.एम. रॉयल, डच एयरलाइंस और डेल्टा एयरलाइंस के साथ उसके कोडशेयर समझौतों की बदौलत उसके यात्री यूरोप और उत्तरी अमरीका से पूरी तरह जुड़ सकेंगे। दोनों मार्गों के लिए टिकटों की बुकिंग  शुरू हो गई है। बेंगलूरू-एम्सटर्डम उड़ान दैनिक होगी जबकि चेन्नई-पैरिस के बीच कंपनी सप्ताह में 5 दिन सेवाएं देगी। मौजूदा समय में दिल्ली और मुंबई से टोरंटों जाने वाली उसकी उड़ानें अभी एम्सटर्डम में रुकती हैं जबकि मुम्बई से पैरिस के लिए वह सीधी उड़ान सेवा दे रही है। 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !