अन्नाद्रमुक सरकार ने पेश किया अंतरिम बजट, 2020-21 में 2.02 प्रतिशत की वृद्धि दर का अनुमान

2021-02-23T18:38:07.803

चेन्नई, 23 फरवरी (भाषा) विधानसभा चुनाव से पहले तमिलनाडु की अन्नाद्रमुक सरकार ने मंगलवार को 2021-22 का अंतरिम बजट पेश किया। राज्य में विधानसभा चुनाव अप्रैल में होने की संभावना है।
तमिलनाडु के प्रमुख विपक्षी दल द्रमुक और उसके सहयोगियों ने बजट का बहिष्कार किया। कोविड-19 महामारी के बीच बजट में राजकोषीय घाटा ऊंचा 84,000 करोड़ रुपये रहने का अनुमान लगाया गया है।
बजट में चालू वित्त वर्ष 2020-21 में राज्य की वृद्धि दर 2.02 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया गया है। अन्नाद्रमुक सरकार का कहना है कि उसके द्वारा लिए गए कई नीतिगत फैसलों की वजह से राज्य की अर्थव्यवस्था की स्थिति सुधरेगी।
द्रमुक और उसके सहयोगी दलों कांग्रेस और इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने बजट का बहिष्कार किया। विपक्ष के नेता एम के स्टालिन ने एक बयान में में 5.70 लाख करोड़ रुपये के कर्ज भार के लिए सरकार को आड़े हाथ लिया।
राज्य के उपमुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम ने बजट पेश किया। उनके पास वित्त मंत्रालय का भी प्रभार है। पनीरसेल्वम द्वारा बजट भाषण शुरू करते ही द्रमुक के उपनेता दुरईमुरुगम ने विधानसभाध्यक्ष पी धनपाल से अपनी बात रखने की अनुमति मांगी, लेकिन उन्हें ऐसा करने की इजाजत नहीं दी गई।
स्टालिन ने सदन की कार्यवाही में हिस्सा नहीं लिया। उन्होंने कहा कि आगामी चुनावों में जीत के बाद वह राज्य की ‘वृद्धि’ सुनिश्चित करेंगे।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

PTI News Agency

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News