ओएनजीसी को पांच महीने के बाद एचपीसीएल बोर्ड में एक निदेशक मिला

punjabkesari.in Sunday, Jun 26, 2022 - 12:23 PM (IST)

नयी दिल्ली, 26 जून (भाषा) तेल और प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) को आखिरकार पांच महीने से अधिक समय के बाद हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) के बोर्ड में एक निदेशक मिल गया है।

गौरतलब है कि ओएनजीसी ने 36,915 करोड़ रुपये में एचपीसीएल का अधिग्रहण किया था।

शेयर बाजार को दी जानकारी के मुताबिक पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय ने 22 जून को एचपीसीएल के बोर्ड में निदेशक के रूप में ओएनजीसी के निदेशक (ऑफशोर) पंकज कुमार की नियुक्ति के लिए अपनी मंजूरी दी।

पांच महीने से अधिक समय से ओएनजीसी का एचपीसीएल के बोर्ड में कोई प्रतिनिधि नहीं था।

एचपीसीएल ने डेढ़ साल से अधिक समय तक (जनवरी 2018 और अगस्त 2019 के बीच) ओएनजीसी को अपने प्रवर्तक के रूप में मान्यता नहीं दी थी, जबकि सरकार ने कंपनी में अपनी पूरी 51.11 प्रतिशत हिस्सेदारी उसे बेच दी थी।

बाजार नियामक सेबी के हस्तक्षेप के बाद ही एचपीसीएल नरम पड़ी और ओएनजीसी को एक निदेशक नियुक्त करने का अधिकार मिला, जिसे एचपीसीएल ने ‘सरकारी नामित निदेशक (ओएनजीसी का प्रतिनिधि)’ कहा।

एचपीसीएल ने शेयर बाजार को बताया, ‘‘पंकज कुमार को 22 जून 2022 से कंपनी के बोर्ड में सरकारी निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है।’’


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News