अठारह वर्ष से ऊपर सभी के टीकाकरण की लागत 67,193 करोड़ रुपये, जीडीपी का 0.36 प्रतिशत: इंडिया रेटिंग्स

2021-04-22T23:30:55.457

नयी दिल्ली, 22 अप्रैल (भाषा) कोविड-19 के लिए 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिकों के टीकाकरण की लागत 67,193 करोड़ रुपये होगी, जिसमें से कुल मिलाकर राज्यों पर 46,323 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च (इंड-रा) ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।
कोविड-19 की दूसरी लहर देश में तेजी से बढ़ी है, जिसके बाद सरकार ने कोविड-19 टीकाकरण का दायरा व्यापक करने की घोषणा की। इसके तहत, 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी व्यक्ति एक मई से कोविड-19 टीके की खुराक प्राप्त करने के पात्र होंगे।
इंडिया रेंटिग्स का कहना है, ‘‘इसका मतलब है कि 133.26 करोड़ की कुल आबादी में से जो अब टीकाकरण के लिए पात्र जनसंख्या होगी उसकी संख्या 84.19 करोड़ है।’’ इंडिया रेटिंग्स की गणना के अनुसार ‘‘इस काम पर 67,193 करोड़ रुपये की लागत आ सकती है, जो जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) का 0.36 प्रतिशत बैठता है। जिसमें से केंद्र सरकार 20,870 करोड़ रुपये और सभी राज्य सरकारों पर सामूहिक रूप से 46,323 करोड़ रुपये खर्च आयेगा।’’ सरकार ने कोरोना वायरस टीके के मूल्य निर्धारण, खरीद, पात्रता और प्रशासन को लचीला बनाया है। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों तथा निजी अस्पतालों को निर्माताओं से सीधे अतिरिक्त कोविड-19 टीके लेने की अनुमति दी गई है।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

PTI News Agency

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static