जीएसटी अधिकारियों ने 115 जाली कंपनियां बनाने वाले को गिरफ्तार किया

2020-11-25T21:47:16.653

नयी दिल्ली, 25 नवंबर (भाषा) जीएसटी अधिकारियों ने वडोदरा में 50.24 करोड़ रुपये का इनपुट कर क्रेडिट (आईटीसी) लेने के लिए 115 जाली कंपनियां बनाने वाले सरगना को गिरफ्तार किया है। सूत्रों ने बुधवार को यह जानकरी दी। अधिकारियों ने बताया कि इस व्यक्ति ने धोखाधड़ी से आईटीसी लेने के जाली इन्वॉयस या बिल बनाए।
केंद्रीय जीएसटी आयुक्तालय तथा जीएसटी आसूचना महानिदेशालय (डीजीजीआई) ने देशभर में जाली बिलों के खिलाफ अभियान में 59 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें एक महिला सरगना, तीन चार्टर्ड अकाउंटेंट शामिल हैं। अब तक कुल 793 मामले दायर किए गए हैं और इनमें शामिल 2,802 इकाइयों की पहचान की गई।
डीजीजीआई ने भारतीय सनदी लेखाकार संस्थान (आईसीएआई) को पत्र लिखकर तीन गिरफ्तार सीए के खिलाफ कार्रवाई करने को भी कहा है।
सूत्रों ने बताया कि सीजीएसटी और डीजीजीआई अधिकारियों ने वडोदरा में 50.24 करोड़ रुपये का आईटीसी लेने के लिए 115 जाली कंपनियां बनाने वाले सरगना को गिरफ्तार किया है। इस व्यक्ति ने इनपुट कर क्रेडिट लेने के लिए जाली इन्वॉयस बनाए।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Edited By

PTI News Agency

Recommended News