नजर आ रहा है सुधार, ‘मेक इन इंडिया’ के लिए निवेश जारी रहेगा: मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक

2020-10-18T17:30:35.787

नयी दिल्ली, 18 अक्टूबर (भाषा) मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक इंडिया के एक शीर्ष अधिकारी के मुताबिक भारतीय बाजार में सुधार ‘‘दिखने लगा’’ है और आईएमएफ की एक हालिया रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि वित्त वर्ष 2021 में वृद्धि दर 8.8 प्रतिशत रहेगी, जो यहां निवेश के लिए प्रेरणादायी है।

मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक इंडिया एयर कंडीशनर, फैक्ट्री ऑटोमेशन, सेमीकंडक्टर और उपकरण से लेकर परिवहन प्रणाली तक विभिन्न खंडों में काम करती है।
कंपनी ने कहा है कि वह भारत को वैश्विक विनिर्माण केंद्र बनाने में पूरी मदद करेगी।
मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक इंडिया के मुख्य रणनीति अधिकारी राजीव शर्मा ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘इस साल बिक्री में 6-7 प्रतिशत की गिरावट के बाद इस क्षेत्र में मांग और आपूर्ति संबंधी कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है, लेकिन सौभाग्य से त्योहारी बिक्री के कारण सुधार दिख रहा है।’’
उन्होंने कहा कि दूसरे देशों की तरह भारत भी प्रभावित हुआ है और नए हालात में कारोबार अभी भी जारी है।

हालांकि, शर्मा ने कहा, ‘‘आईएमएफ के अनुसार, हालांकि देश महामारी से गंभीर रूप से प्रभावित हुआ है, लेकिन 2021 में इसके 8.8 प्रतिशत की प्रभावशाली वृद्धि के साथ वापसी करने की संभावना है, जो सभी के लिए प्रेरणा है।’’
उन्होंने कहा कि कंपनी को उम्मीद है कि उपकरण बाजार पूरी तरह पहले की स्थिति में आ जाएगा और तीन महीनों में इसके सामान्य स्थिति में आने की उम्मीद है, हालांकि कोविड-19 के चलते एसी उद्योग बुरी तरह प्रभावित हुआ है।
देश को आत्मनिर्भर और वैश्विक विनिर्माण केंद्र बनाने के भारत सरकार के प्रयास पर शर्मा ने कहा कि मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक को बढ़ते भारतीय बाजार का हिस्सा होने पर गर्व है।
उन्होंने कहा कि कंपनी भारतीय ग्राहकों की मांग का बारीकी से विश्लेषण कर रही है और निकट भविष्य में विस्तार-आधारित निवेश की योजना बना रही है।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Edited By

PTI News Agency

Related News