See More

AAP सांसद ने BJP पर निशाना साधते हुए पूछा- CM केजरीवाल को दिल्ली की चिंता करने का हक क्यों नहीं?

2020-06-01T18:02:38.823

नई दिल्ली/ डेस्क। कोरोना संकट में दिल्ली के बॉर्डर सील करने और अस्पतालों में दिल्ली की जनता के इलाज को लेकर केजरीवाल सरकार और भाजपा के बीच ठन गई है। आम आदमी पार्टी ने पूछा है कि अगर योगी सरकार को उत्तर प्रदेश और खट्टर सरकार को हरियाणा की चिंता करने का हक है तो फिर केजरीवाल सरकार को दिल्ली की चिंता करने का हक क्यों नहीं है?


बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बॉर्डर सील करने और अस्पतालों में दिल्ली की ही जनता के इलाज को लेकर लोगों से सुझाव मांगे हैं। केजरीवाल का कहना है कि जब तक कोरोना के हालात हैं तब तक दिल्ली में यहां की जनता पर ही फोकस किया जाना चाहिए। सीमित संसाधन और बढ़ते कोरोना मामलों की वजह से केजरीवाल सरकार ने यह फैसला लिया है। बता दें कि हरियाणा और यूपी ने भी दिल्ली से लगी सीमा को सील कर रखा है। 


दरअसल, केजरीवाल सरकार ने केंद्र की मोदी सरकार से 5000 करोड़ रुपये की मदद की गुहार लगाई थी। इसको लेकर केंद्र की ओर से तो कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली, लेकिन दिल्ली के भाजपा सांसदों ने केजरीवाल को ही घेरना शुरू कर दिया है। उधर, आप ने भाजपा सांसदों पर दिल्ली के साथ दगा और दिल्ली की हक मारने का आरोप लगाया है। 


संजय सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा है, 'भाजपाई कहते हैं 'चित भी मेरी पट भी मेरी” कह रहे हैं “पूरे देश के लिये दिल्ली के अस्पताल खोल दो Cases बढ़ेंगे तो भाजपाई धरना प्रदर्शन करेंगे'


उधर, आप नेता राजेंद्र पाल गौतम का कहना है, '@ArvindKejriwal जी के नेतृत्व मे हमने दिल्ली मे शानदार हेल्थ सिस्टम बनाया। नागरिकों की मदद से हम कोरोना से भी लड़ रहे हैं। केंद्र से मदद नहीं मिल रही, बल्कि झूठ फैलाकर बाधा डाली जा रही है। उचित होगा कि कोरोना संकट को देखते हुए दिल्ली के अस्पताल राज्य के मरीजों हेतु सुरक्षित हों।'

 

आम आदमी पार्टी ने अपने ट्वीट में लिखा है, 'दिल्ली का बॉर्डर खोला जाए या नहीं? मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी को अपना बहुमूल्य सुझाव भेजें। आप अपने सुझाव शुक्रवार शाम 5 बजे तक ईमेल : delhicm.suggestions@gmail.com व्हाट्सअप नंबर: 8800007722 वॉइसमेल नंबर: 1031 पर भेज सकते है। 
 


Edited By

Murari Sharan

Related News