कौन होगा राजस्थान का नया CM? कांग्रेस विधायक दल की बैठक में आज लगेगी मुहर

punjabkesari.in Sunday, Sep 25, 2022 - 11:29 AM (IST)

नेशनल डेस्क: राजस्थान में कांग्रेस विधायक दल की एक बैठक रविवार शाम सात बजे यहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आवास पर होगी। इस बैठक में गहलोत के पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने की घोषणा के बाद नेतृत्व परिवर्तन की चर्चा होगी। अखिल भारतीय कांग्रेस समिति (एसआईसीसी) के संगठन महासचिव के. सी. वेणुगोपाल ने शनिवार को बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने राजस्थान में कांग्रेस विधायक दल की बैठक के लिए प्रभारी महासचिव अजय माकन के साथ मल्लिकार्जुन खड़गे को पर्यवेक्षक नियुक्त किया है। आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि रविवार शाम सात बजे जयपुर में मुख्‍यमंत्री निवास में होने वाली विधायक दल की बैठक में खड़गे और माकन मौजूद रहेंगे।

राज्य में बदला जा सकता है मुख्‍यमंत्री
एक सप्ताह के भीतर विधायक दल की यह दूसरी बैठक है। पिछली बैठक 20 सितंबर को हुई थी जब गहलोत ने अपने निवास पर उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के लिए रात्रिभोज की मेजबानी करने के बाद, विधायकों को रुकने के लिए कहा था। विधायक दल की बैठक ऐसे समय में हो रही है जबकि मुख्‍यमंत्री गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए अगले महीने होने वाले चुनाव में उतरने की घोषणा कर चुके हैं। ऐसा माना जा रहा है कि गहलोत के पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद राज्य में मुख्‍यमंत्री बदला जा सकता है। गहलोत शुक्रवार को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद पर चुनाव के लिए अपनी उम्मीदवारी की घोषणा करने वाले पहले व्यक्ति बने और कहा कि पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनसे कहा है कि गांधी परिवार से कोई भी अगला पार्टी प्रमुख नहीं बनना चाहिए।

सोनिया गांधी लेंगी उनके उत्तराधिकारी के बारे में फैसला
मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि उनके उत्तराधिकारी के बारे में फैसला सोनिया गांधी और माकन करेंगे। गहलोत का यह बयान राहुल गांधी द्वारा 'एक व्यक्ति, एक पद' की अवधारणा का समर्थन करने के बाद आया है। कोच्चि में पत्रकारों से बात करते हुए गहलोत ने कहा था, ‘‘मैं (राजस्थान में) वापस लौटने के बाद तारीख (नामांकन पत्र जमा करने के लिए) तय करूंगा, लेकिन मैंने फैसला किया है कि मुझे चुनाव लड़ना होगा। यह लोकतंत्र का सवाल है और चलो हम एक नई शुरुआत करें।" बाद में दिन में, गहलोत ने शिरडी में संवाददाताओं से कहा था कि "एक आदमी, एक पद" पर बहस अनावश्यक है और वह जीवन भर अपने राज्य के लोगों की सेवा करना चाहेंगे।

पायलट मुख्यमंत्री पद के प्रमुख दावेदार
उन्होंने यह भी कहा कि राजस्थान के लोगों की सेवा करने की इच्छा पर उनके बयानों की अलग-अलग तरह से व्याख्या की जा रही है। राज्य में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने शुक्रवार को राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी से उनके कक्ष में जाकर मुलाकात की थी और उस समय कई और विधायक भी मौजूद थे। पार्टी सूत्रों के मुताबिक पायलट मुख्यमंत्री पद के प्रमुख दावेदार हैं,लेकिन जोशी का नाम भी चर्चा में है। जोशी पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रह चुके हैं और 2008 में इस पद के दावेदार थे, लेकिन उस समय वो एक वोट से विधानसभा चुनाव हार गए थे। दो दशक से अधिक समय के बाद, कांग्रेस पार्टी प्रमुख के पद के लिए गहलोत नामांकन दाखिल करेंगे। उन्होंने अपनी उम्मीदवारी की घोषणा कर दी है। कांग्रेस नेता शशि थरूर से उनका मुकाबला होने की संभावना है।

17 अक्टूबर को होगा मतदान
थरूर ने शनिवार को दिल्ली में पार्टी मुख्यालय से नामांकन पत्र प्राप्त किए थे। पार्टी की ओर से बृहस्पतिवार को जारी अधिसूचना के अनुसार चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया 24 सितंबर से 30 सितंबर तक चलेगी। नामांकन पत्रों की जांच की तिथि एक अक्टूबर है, जबकि नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि आठ अक्टूबर है। उम्मीदवारों की अंतिम सूची आठ अक्टूबर को शाम पांच बजे प्रकाशित की जाएगी। अगर जरूरत पड़ी तो मतदान 17 अक्टूबर को होगा। मतों की गिनती 19 अक्टूबर को होगी और उसी दिन परिणाम घोषित किया जाएगा। इस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत रविवार को जैसलमेर के तनोट मंदिर में पूजा-अर्चना करेंगे। वह सुबह 11.30 बजे जयपुर से रवाना होंगे और शाम 4.30 बजे जयपुर लौटेंगे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News