महाकालेश्वर की शाही सवारी में बाल-बाल बचे सिंधिया, समर्थकों की धक्का-मुक्की से रेलिंग टूटी

punjabkesari.in Tuesday, Aug 18, 2020 - 08:37 AM (IST)

नेशनल डेस्कः मध्यप्रदेश की धार्मिक उज्जैन में सोमवार को भगवान महाकालेश्वर की शाही सवारी बड़ी धूमधाम से निकाली गई। इस दौरान राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी उज्जैन पहुंचे थे लेकिन एक हादसे में वे घायल होने से बाल-बाल बच गए। दरअसल जैसे ही सिंधिया रामघाट पहुंचे, इस दौरान उनके समर्थकों के बीच गुलदस्ता भेंट करने को लेकर धक्का-मुक्की शुरू हो गई। इस धक्का-मुक्की में घाट के पास सीमेंट की रेलिंग गिर गई और सिंधिया भी गिरते- गिरते बचे। हालांकि गनीमत यह रही कि इस हादसे में किसी को चोट नहीं लगी।

PunjabKesari

बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया हर साल महाकाल की शाही सवारी में शामिल होते हैं क्योंकि महाकाल मंदिर से सिंधिया परिवार का काफी पुराना संबंध है। वहीं कांग्रेस ने आरोप लगाया कि राज्यसभा सांसद बनने के बाद पहली बार इंदौर आए ज्योतिरादित्य सिंधिया के स्वागत के दौरान सत्तारूढ़ भाजपा के नेताओं ने कोरोना से बचाव के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन किया।

PunjabKesari

सिंधिया के वफादार समर्थकों में गिने जाने वाले राज्य के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट भी 49 वर्षीय राज्यसभा सांसद के स्वागत के लिए हवाई अड्डे पहुंचे थे, जबकि कोरोना वायरस संक्रमण के इलाज के बाद सिलावट को तीन दिन पहले ही अस्पताल से छुट्टी दी गयी है। शुक्ला ने कह कि कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त होने वाले आम मरीजों को डॉक्टरों द्वारा सलाह दी जाती है कि वे सात दिन तक अपने घर में अलग रहें। लेकिन अपने राजनीतिक आका सिंधिया के स्वागत के लिये सिलावट ने इस सलाह का पालन करने की जहमत नहीं उठाई।

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Seema Sharma

Related News

Recommended News