जब पीएम मोदी ने मेरी तुलना शूर्पणखा से की थी तब मीडिया कहां थी?, रावण विवाद पर बोलीं रेणुका चौधरी

punjabkesari.in Wednesday, Nov 30, 2022 - 01:59 PM (IST)

नेशनल डेस्क: कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे द्धारा पीएम नरेंद्र मोदी को 'रावण' कहे जाने के बाद विवाद खड़ा हो गया है। इस बयान को लेकर बीजेपी ने खरगे व पूरी कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है। इसी बीच अब पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद रेणुका चौधरी खरगे के बचाव में उतर आईं हैं। सांसद रेणुका चौधरी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है। उनका कहना है कि, 'प्रधानमंत्री मोदी ने एक बार उनकी तुलना शूर्पणखा से की थी, तब मीडिया कहां थी? रेणुका चौधरी के इस ट्वीट के बाद 2018 में पीएम के बयान की कई वीडियो भी अब सोशल मीडिया पर वायरल होने शुरू हो गए हैं।

रेणुका चौधरी के ट्वीट के बाद कई सोशल मीडिया यूजर्स उनके पक्ष व विपक्ष में उतर आए हैं। कई सोशल मीडिया के यूजर्स ने उनके दावा का खंडन किया है। उनका कहना है कि पीएम ने उन्हें कभी शूर्पणखा नहीं कहा। ट्विटर पर सामने आए राज्यसभा के पुराने वीडियो में पीएम मोदी ने कहा था...सभापति जी..मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि आप रेणुका चौधरी जो की मत रोकिए। रामायण सीरियल के बाद आज इस तरह की हंसी सुनने का सौभाग्य मिला है।'

मल्लिकार्जुन खड़गे का विवादित बयान 
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा,  'बीजेपी नगरपालिका तक के चुनाव में कहती है मोदी को वोट दो…क्या मोदी यहां काम करने आएंगे? पीएम हर वक्त अपनी ही बात करते हैं...आप किसी को मत देखो... मोदी को देख कर वोट दो। तुम्हारी सूरत कितनी बार देखना? कॉरपोरेशन में भी तुम्हारी सूरत देखना, एमएलए के इलेक्शन में भी तुम्हारी सूरत देखना, एमपी इलेक्शन में भी तुम्हारी सूरत देखना..हर जगह..आपके रावण के जैसे 100 मुख हैं क्या?'

बीजेपी का पलटवार 
भाजपा ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को रावण कहे जाने पर जोरदार पलटवार किया है और कहा है कि खड़गे सोनिया गांधी और राहुल गांधी की जुबान बोल रहे हैं और उन्हें इसका जवाब गुजरात की जनता से मिलेगा। भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए जिस प्रकार की भाषा का प्रयोग किया है, वह निंदनीय है। कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री मोदी को ‘रावण' कहा है। इस प्रकार का गाली-गलौज देश के प्रधानमंत्री के लिए करना, यह उचित नहीं है। देश हित में मोदी ने कई काम किये हैं। वो भारत को प्रगति के पथ पर ले जा रहे हैं। हिंदुस्तान के गरीब को कैसे आगे ले जा सके उसके लिए काम कर रहे गुजरात की मिट्टी को सलाम है जिसने ऐसा सपूत दिया है। उनको रावण कहना सिर्फ मोदी का अपमान नहीं ये प्रत्येक गुजराती और पूरे गुजरात का अपमान है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News