कांग्रेस ज्वाइन कर सकते हैं प्रशांत किशोर! नेशनल लेवल पर निभाएंगे खास रोल...PM मोदी को देंगे टक्कर

punjabkesari.in Wednesday, Jul 14, 2021 - 02:54 PM (IST)

नेशनल डेस्क: कांग्रेस की पंजाब इकाई में चल रही कलह के बीच जाने-माने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने मंगलवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की। प्रशांत किशोर की राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और सोनिया गांधी के साथ मुलाकात को लेकर कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं। सियासी गलियारे में चर्चा है कि प्रशांत किशोर कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। अगर यह अटकलें सही साबित हुईं तो 2024 में पीएम नरेंद्र मोदी को टक्कर देने में प्रशांत किशोर की अहम भूमिका हो सकती है। मंगलवार गांधी परिवार के साथ चली करीब 1 घंटे की इस बैठक में पार्टी के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल और कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश रावत भी मौजूद थे। करीब डेढ़ घंटे तक चली मुलाकात के बारे में कांग्रेस की ओर से आधिकारिक रूप से कुछ नहीं कहा गया है लेकिन हरीश रावत ने इतना जरूर कहा कि किशोर पंजाब के मुद्दे पर बातचीत करने नहीं आए थे।

PunjabKesari

बता दें क उत्‍तर प्रदेश, उत्‍तराखंड, पंजाब, गोवा, मणिपुर और गुजरात में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। पंजाब में कांग्रेस की सरकार है। जबकि बाकी जगह पर वह अपनी खोई जमीन पाने की कोशिश करेगी। इससे पहले किशोर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार से भी कई बार मुलाकात क चुके हैं। शरद पवार राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा विरोधी मोर्चा बनाने के प्रयास में हैं और इसी सिलसिले में उन्होंने कुछ किशोर से मुलाकात की थी। इन सब खबरों के बीच अगर प्रशांत किशोर कांग्रेस में शामिल हो जाते हैं तो वे विपक्ष को जरूर एकजुट करेंगे ताकि भाजपा को सत्ता से बाहर किया जा सके और फिर से देश की कमान कांग्रेस के हाथ हो।

PunjabKesari

कांग्रेस में बदलाव चाहते हैं प्रशांत किशोर
सूत्रों के मुताबिक PK कांग्रेस में कुछ बदलाव चाहते हैं औऱ वो इसकी शुरुआत ब्लॉक स्तर के चुनाव से करना चाहते हैं। PK चाहते हैं कि विशेषज्ञों की एक कमेटी गठित की जाए जो कांग्रेस अध्यक्ष को हर मामले में सलाह दे सके। किशोर कांग्रेस अध्यक्ष को सलाह देने के लिए रघुराम राजन, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के पूर्व गवर्नर (वर्तमान में शिकागो विश्वविद्यालय बूथ स्कूल ऑफ बिजनेस में वित्त के विशिष्ट सेवा प्रोफेसर) जैसे शीर्ष डोमेन विशेषज्ञों की एक नौ सदस्यीय समिति का गठन करना चाहते हैं।

PunjabKesari

जब नीतीश की पार्टी में शामिल हुए किशोर
प्रशांत किशोर ने साल 2018 में JDU से सियासी पारी शुरू की थी। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खास रत्नों में प्रशांत किशोर शामिल थे।  नीतीश ने प्रशांत को बिहार का भविष्य तक बता दिया था, लेकिन अचानक हवा का रुख कुछ ऐसा बदला कि PK नीतीश कुमार की आंखों की किरकिरी बन गए और नीतीश उनको जनवरी साल 2020 में जनता दल (यूनाइटेड) पार्टी से निकाल कर बाहर का रास्ता दिखा दिया।

PunjabKesari

कांग्रेस में PK के पास बड़ा मौका
अगर PK ने कांग्रेस में शामिल होने के प्रस्ताव को हां कह दिया तो उनकी थाली में बहुत कुछ होगा । दरअसल अगले साल दो बड़े चुनाव- उत्तर प्रदेश और पंजाब में हो रहे हैं, जहां वे और प्रियंका गांधी मिलकर कुछ बड़ा कर सकते हैं या यह कहें कि इन दोनों राज्यों में PK के पास काफी बड़ा मौका है।

PunjabKesari

कइयों की नैया लगाई पार
चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने अब तक कई नेताओं को सत्ता दिलाई है। पीके भारत में कई राजनीतिक दलों और नेताओं के लिए एक्स फैक्टर और परिवर्तनकारी एजेंट रहा है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम भी शामिल है। साल 2014 में पीएम मोदी को सत्ता में लाने के लिए प्रशांत किशोर ने ही रणनीति तैयार की थी। अगर यह कहा जाए कि प्रशांत किशोर भी साल 2014 में ही ज्यादा चर्चा में आए तो यह कहना गलत न होगा। PK क उस समय भाजपा में काफी रुतबा था लेकिन अमित शाह की एंट्री के बाद वे शून्य पर हो गए भाजपा से दूर हो गए। इसके बाद प्रशांत किशोर ने पंजाब में अमरेंद्र सिंह और उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव के लिए रणनीति बनाई।

PunjabKesari

पंजाब में प्रशांत किशोर की रणनीति काम आई और कांग्रेस की सत्ता में वापसी हुई लेकिन अखिलेश यूपी में अपना जलवा बरकरार नहीं रख पाए। इसके बाद एम के स्टालिन (तमिलनाडु के मुख्यमंत्री) और वाईएस जगन मोहन रेड्डी (आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री) जैसे नेताओं को सत्ता दिलाई। वहीं हाल ही में ममता बनर्जी के सलाहकार भी प्रशांत किशोर थे। जहां पश्चिम बंगाल में इस बार की हवा भाजपा की तरफ लग रही थी वहीं ममता बनर्जी ने वहां ऐसी हैट्रिक लगाई कि तीसरी बार सत्ता पर काबिज हुईं। ममता को सत्ता दिलाने के बाद प्रशांत किशोर ने कहा था कि वह अब यह काम नहीं करेंगे बल्कि कुछ अलग करना चाहते हैं। तब सत्ता में आने की खबरों पर PK ने कहा था कि अभी कुछ दिन खुद को समय देना चाहता हूं, फिर सोचूंगा आगे क्या करना है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News