ममता बनर्जी अगर सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगी तो प्रधानमंत्री नाराज हो जाएंगे: अधीर रंजन चौधरी

11/25/2021 8:19:15 PM

नेशनल डेस्कः मेघालय में 12 विधायकों के टीएमसी में शामिल होने पर कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी को चुनौती देते हुए कहा कि ममता बनर्जी दिल्ली में अगर सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगी तो पीएम मोदी नाराज हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि अपने भतीजे को ईडी के तरफ से मिले समन के बाद उनके एक्शन में बदलाव नजर आ रहा है। इससे पहले ममता बनर्जी सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर बीजेपी के खिलाफ एकजुट होकर लड़ने की बात करती थीं। अधीर रंजन चौधरी ने मेघालय में 12 कांग्रेस विधायकों के टीएमसी में शामिल होने की घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए यह बात कही। मेघालय में कांग्रेस के 12 विधायकों ने अब पार्टी छोड़कर टीएमसी का दामन थामने का फैसला लिया है।

अधीर रंजन ने कहा कि कांग्रेस को तोड़ने की साजिश केवल मेघालय में नहीं बल्कि पूरे नॉर्थ ईस्ट में हो रही है। उन्होंने बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को चुनौती देते हुए कहा कि पहले इन विधायकों को टीएमसी के चुनाव चिन्ह पर चुनाव मैदान में उतारतीं और जीतने के बाद अपनी पार्टी में इनका स्वागत करतीं। इसी क्रम में उन्होंने सोनिया गांधी और ममता बनर्जी की मुलाकात लेकर टिप्पणी की और कहा कि ममता अगर सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगी तो पीएम मोदी नाराज हो जाएंगे।

अधीर रंजन ने कहा कि यह सब प्रशांत किशोर और टीएमसी के नेता ल्यूजिन्हो फ्लेयिरो द्वारा किया जा रहा है। हमें इनकी गतिविधियों की जानकारी थी। आपको बता दें कि मेघालय में विपक्षी दल कांग्रेस बड़ा झटका लगा है जहां उसके 17 में से 12 विधायक पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा के नेतृत्व में तृणमूल कांग्रेस में शामिल होनेवाले हैं। कांग्रेस से अलग होने वाले विधायकों में शामिल एच एम शंगप्लियांग ने यह जानकारी दी। 

ईस्ट खासी हिल्स जिले के मौसीनराम से विधायक शंगप्लियांग ने पीटीआई-भाषा से कहा, 'मेघालय में कांग्रेस के 17 में से 12 विधायकों ने तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने का निर्णय लिया है। हम पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा के नेतृत्व में औपचारिक रूप से तृणमूल कांग्रेस में शामिल होंगे।” उन्होंने कहा कि कांग्रेस के विधायकएक कार्यक्रम में तृणमूल कांग्रेस में शामिल होंगे। शिलांग में एक अधिकारी ने बताया कि कांग्रेस से अलग होकर तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने वाले विधायकों के समूह ने विधानसभा अध्यक्ष एम लिंगदोह को विधायकों की सूची सौंपी है और उन्हें अपने निर्णय के बारे में बताया है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Related News

Recommended News