See More

चक्रवात अम्फान से प्रभावित राज्य उड़ीसा को पीएम मोदी का मरहम, 500 करोड़ की मदद का ऐलान

2020-05-22T19:51:50.92

नेशनल डेस्कः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चक्रवात से प्रभावित ओडिशा के लिए 500 करोड़ रुपये की अग्रिम आर्थिक सहायता की शुक्रवार को घोषणा की। मोदी ने चक्रवात ‘अम्फान' से प्रभावित इलाकों के हवाई सर्वेक्षण और ओडिशा के राज्यपाल गणेशी लाल और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के साथ समीक्षा बैठक के बाद यह घोषणा की। प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार से विस्तृत रिपोर्ट मिलने के बाद दीर्घकालिक पुनर्वास उपायों के लिए आगे की सहायता दी जाएगी। इन नेताओं ने करीब डेढ़ घंटे तक जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, भद्रक, बालासोर, जाजपुर और मयूरभंज जिलों का हवाई मुआयना किया। यहां बीजू पटनायक अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा परिसर में हुई समीक्षा बैठक में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और प्रताप सारंगी भी उपस्थित थे।

मोदी ने कहा कि ओडिशा सरकार ने अग्रिम तैयारी कर जिंदगियां बचाईं। इस चक्रवात ने पश्चिम बंगाल की तरफ बढ़ते हुए कृषि क्षेत्र के अलावा घरों, बिजली एवं अवसंचरना को नुकसान पहुंचाया है। जिंदगियां बचाने के लिए ओडिशा के लोगों, प्रशासन और मुख्यमंत्री की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह आपदा राज्य के समक्ष गंभीर चुनौती लेकर आई है क्योंकि यह ऐसे समय में आई है जब हर कोई कोविड-19 के खिलाफ भयानक जंग में उलझा हुआ है।
PunjabKesari
इससे पहले पीएम मोदी सुबह साढ़े 10 बजे पश्चिम बंगाल पहुंचे। यहां उन्हें राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने रिसीव किया। इसके तुरंत बाद प्रधानमंत्री मोदी राज्यपाल और मुख्यमंत्री के साथ चक्रवात प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने के लिए निकल गए। मोदी ने चक्रवात से प्रभावित पश्चिम बंगाल को एक हजार करोड़ रुपये की अग्रिम मदद देने की शुक्रवार को घोषणा की। चक्रवाती तूफान के चलते राज्य में कम से कम 77 लोगों की जान चली गई और राजधानी कोलकाता समेत कई दक्षिणी जिले तबाह हो गए हैं। मोदी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ चक्रवात से प्रभावित कुछ इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। उत्तर 24 परगना जिले के बशीरहाट में धनखड़, बनर्जी और राज्य के शीर्ष अधिकारियों के साथ आधिकारिक बैठक में स्थिति की समीक्षा में मोदी ने प्रत्येक मृतक के परिवार को दो-दो लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा भी की।
PunjabKesari
कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटते हुए भी प्राकृतिक आपदा का सामना करने के लिए राज्य प्रशासन को प्रेरित करने के बनर्जी के प्रयासों की सराहना करते हुए मोदी ने कहा कि पूरा देश पश्चिम बंगाल के साथ खड़ा है जहां सरकार द्वारा कदम उठाए जाने के बावजूद करीब 80 लोगों की जान चली गई मोदी ने वीडियो संदेश में कहा, ‘‘ मैं राज्य को 1,000 करोड़ रुपये की अग्रिम मदद देने की घोषणा करता हूं। घरों के अलावा कृषि, बिजली और अन्य क्षेत्रों को पहुंचे नुकसान का विस्तृत आकलन किया जाएगा।'' उत्तर एवं दक्षिण 24 परगना, पूर्व एवं पश्चिम मिदनापुर, कोलकाता, हावड़ा और हुगली जिलों में अवसंरचना, सार्वजनिक और निजी संपत्ति को बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचा है। उन्होंने कहा, ‘‘ संकट और निराशा के इस समय में पूरा देश और केन्द्र बंगाल के लोगों के साथ है।''
PunjabKesari
ममता ने कहा- पैकेज है क्या है मैं नहीं जानती
पैकेज के ऐलान के बाद ममता ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने 1,000 करोड़ रुपये के आपात कोष की घोषणा की है...पैकेज क्या है, मैं नहीं जानती। मैंने उनसे कहा कि हम उन्हें ब्योरा देंगे। पूरी स्थिति का आकलन करने में कुछ वक्त लगेगा, लेकिन एक लाख करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान हुआ है।'' ममता ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री को इस बात की याद दिलाई कि विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के लिये केंद्र सरकार द्वारा राज्य को करीब 53,000 करोड़ रुपये देने हैं। उन्होंने कहा, ‘‘यदि वे (केंद्र) हमें कुछ पैसे देंगे, तो हम काम कर सकते हैं।'' मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने मोदी को कोलकाता में ‘अम्फान' द्वारा मचाई गई तबाही की कुछ तस्वीरें दिखाई। ‘अम्फान', करीब दो दशक में क्षेत्र का सबसे प्रचंड चक्रवात है। इसने राज्य के कई हिस्से को प्रभावित किया है। चक्रवात से राजधानी कोलकाता के अलावा उत्तर 24 परगना, दक्षिण 24 परगना, पूर्वी मिदनापुर, पश्चिमी मिदनापुर, हावड़ा और हुगली जिलों में बुनियादी ढांचे, सार्वजनिक और निजी संपत्ति को बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचा है। 

 


Yaspal

Related News