दो देशों की यात्रा कर नई दिल्ली लौटे PM मोदी, कल हरियाणा के रेवाड़ी का करेंगे दौरा

punjabkesari.in Thursday, Feb 15, 2024 - 10:17 PM (IST)

नेशनल डेस्कः यूएई और कतर की तीन दिवसीय यात्रा के बाद प्रधानमंत्री देर रात नई दिल्ली लौट आए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्लेन एयर इंडिया वन रात 10 बजे पालम एयरपोर्ट लैंड किया। बता दें कि पीएम मोदी ने अबूधाबी में पहले हिंदू मंदिर का उद्घाटन किया। इसके अलावा यूएई में रुपे पेमेंट सिस्टम भी लॉन्च किया। उन्होंने यूएई में ‘अहलान मोदी’ कार्यक्रम को भी संबोधित किया।

हरियाणा में पहले एम्स की रखी जाएगी नींव
वहीं, मोदी शुक्रवार को हरियाणा के रेवाड़ी का दौरा करेंगे। इस दौरान वह शहरी परिवहन, स्वास्थ्य, रेल और पर्यटन क्षेत्र से संबंधित 9,750 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे। वह रेवाड़ी में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की आधारशिला रखेंगे और रेलवे की कुछ परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित भी करेंगे। पीएमओ ने कहा कि देश भर में सार्वजनिक स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण के अनुरूप रेवाड़ी में एम्स की आधारशिला रखी जा रही है। लगभग 1,650 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले एम्स रेवाड़ी को रेवाड़ी के गांव माजरा मस्तील भारखी में 203 एकड़ भूमि पर विकसित किया जाएगा। इसमें 720 बिस्तरों के साथ अस्पताल परिसर, 100 सीट के साथ मेडिकल कॉलेज, 60 सीट के साथ नर्सिंग कॉलेज, 30 बिस्तरों के साथ आयुष ब्लॉक, संकाय और कर्मचारियों के लिए आवासीय आवास, स्नातक और स्नातकोत्तर छात्रों के लिए छात्रावास, रात्रि विश्राम गृह, गेस्ट हाउस, सभागार आदि सुविधाएं होंगी।

प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (पीएमएसएसवाई) के तहत स्थापित यह एम्स हरियाणा के लोगों को व्यापक गुणवत्ता और समग्र देखभाल की स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करेगा। यहां कार्डियोलॉजी, गैस्ट्रो-एंटरोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, न्यूरोलॉजी, न्यूरोसर्जरी, मेडिकल ऑन्कोलॉजी, सर्जिकल ऑन्कोलॉजी, एंडोक्रिनोलॉजी, बर्न्स और प्लास्टिक सर्जरी सहित अन्य देखभाल सेवाएं उपलब्ध होंगी। संस्थान में गहन देखभाल इकाई, आपातकालीन और ट्रॉमा यूनिट, सोलह मॉड्यूलर ऑपरेशन थिएटर, डायग्नोस्टिक प्रयोगशालाएं, ब्लड बैंक, फार्मेसी आदि की सुविधाएं भी होंगी। हरियाणा में एम्स की स्थापना हरियाणा के लोगों को व्यापक, गुणवत्तापूर्ण और समग्र देखभाल की स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। 

गुरुग्राम मेट्रो ट्रेन का भी करेंगे शिलान्यास
प्रधानमंत्री गुरुग्राम मेट्रो रेल परियोजना की आधारशिला भी रखेंगे जिसे लगभग 5,450 करोड़ रुपये की लागत से विकसित किया जाएगा। करीब 28.5 किलोमीटर की कुल लंबाई वाली यह परियोजना मिलेनियम सिटी सेंटर को उद्योग विहार फेज-5 से जोड़ेगी और साइबर सिटी के पास मौलसारी एवेन्यू स्टेशन पर रैपिड मेट्रो रेल गुरुग्राम के मौजूदा मेट्रो नेटवर्क से जुड़ेगी। पीएमओ के मुताबिक, यह परियोजना लोगों को विश्वस्तरीय पर्यावरण के अनुकूल त्वरित शहरी परिवहन प्रणाली प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण को साकार करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

प्रधानमंत्री कुरुक्षेत्र में नवनिर्मित अनुभव केंद्र ज्योतिसर का उद्घाटन करेंगे। यह अनुभवात्मक संग्रहालय लगभग 240 करोड़ की लागत से बनाया गया है। संग्रहालय 17 एकड़ में फैला है, जिसमें 100,000 वर्ग फुट से अधिक इनडोर स्थान शामिल है। यह महाभारत की महाकाव्य कथा और गीता की शिक्षाओं को जीवंत करेगा। ज्योतिसर, कुरुक्षेत्र वह पवित्र स्थल है जहां भगवान कृष्ण ने अर्जुन को भगवद गीता का शाश्वत ज्ञान प्रदान किया था।

प्रधानमंत्री कई रेल परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे और कुछ को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। जिन परियोजनाओं की आधारशिला रखी जाएगी उनमें रेवाड़ी-कठुवास रेल लाइन (27.73 किलोमीटर), कठुवास-नारनौल रेल लाइन (24.12 किलोमीटर), भिवानी-डोभ भाली रेल लाइन (42.30 किलोमीटर) और मनहेरू-बवानी खेड़ा रेल लाइन (3150 किमी) का दोहरीकरण शामिल है। 

इन रेलवे लाइनों के दोहरीकरण से क्षेत्र में रेल बुनियादी ढांचे में वृद्धि होगी और यात्री तथा मालगाड़ियों दोनों को समय पर चलाने में मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री रोहतक-मेहम-हांसी रेल लाइन (68 किलोमीटर) राष्ट्र को समर्पित करेंगे, जिससे रोहतक और हिसार के बीच यात्रा का समय कम होगा। वह रोहतक-मेहम-हांसी खंड पर ट्रेन सेवा को भी हरी झंडी दिखाएंगे, जिससे रोहतक और हिसार क्षेत्र में रेल संपर्क में सुधार होगा और रेल यात्रियों को फायदा होगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Recommended News

Related News