ऑफ द रिकॉर्डः शाह का बंगला ‘किले’ में तबदील

2020-01-05T08:20:34.157

नेशनल डेस्कः तकरीबन एक महीने से केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के 6ए कृष्णा मेनन मार्ग बंगले को किसी किले की तरह तबदील कर दिया गया है। संसद में पिछले वर्ष अनुच्छेद 370 को निरस्त किए जाने के फौरन बाद ही बंगले की ओर जाने वाले रास्तों पर बैरिकेड्स लगा दिए गए थे लेकिन बाद में इन्हें हटा दिया गया था और ट्रैफिक की आवाजाही शुरू हो गई थी। हालांकि थोड़े वक्त के बाद ही शाह के बंगले की ओर जाने वाली सड़कों पर ट्रैफिक को रोक दिया गया और वहां कड़ा पहरा बैठा दिया गया। 
PunjabKesari
हैरानी की बात है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास की ओर जाने वाली सड़कों और तीन मूर्ति लेन पर ट्रैफिक को नहीं रोका गया लेकिन शाह के बंगले और उसकी ओर जाने वाली सड़कों को किले में तबदील कर दिया गया है। नागरिकता संशोधन कानून और एन.आर.सी. को लेकर पिछले 3 हफ्तों से प्रदर्शन हो रहे हैं। उसके मद्देनजर शाह के बंगले की ओर जाने वाली सड़कों पर बैरिकेड्स लगा दिए गए हैं। दिल्ली पुलिस ने यह सुनिश्चित किया है कि शाह के आधिकारिक आवास के करीब प्रदर्शनकारी न पहुंच सकें। सामान्य ट्रैफिक का भी कृष्णा मेनन मार्ग पर प्रवेश निषिद्ध है। यहां तक कि सुनहरी बाग रोड साइड और उप मार्गों को भी ब्लाक कर दिया गया है। 
PunjabKesari
पुलिस ने ये कदम तब उठाए जब नवम्बर में कांग्रेस कार्यकत्र्ता शाह के आवास के काफी नजदीक बैरिकेड्स तक पहुंच गए थे। 6 ए कृष्णा मेनन मार्ग बंगला पहले दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के पास था। सरकार में गृहमंत्री बनने के बाद शाह ने अपने निवास के लिए इस बंगले को चुना था। गांधीनगर सीट से लोकसभा के लिए चुने जाने के बाद वह इस बंगले में शिफ्ट हुए। 
PunjabKesari


Pardeep

Related News