एनडीए प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू और विपक्ष के यशवंत सिन्हा के नामांकन वैध, 115 उम्मीदवारों ने भरे पर्चे

punjabkesari.in Thursday, Jun 30, 2022 - 03:04 PM (IST)

 

नेशनल डेस्क: आगामी राष्ट्रपति के चुनाव के लिये राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू और विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के नामांकन पत्र जांच में सही पाए गए हैं। राज्यसभा सचिवालय ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। राष्ट्रपति चुनाव के वास्ते निर्वाचन अधिकारी एवं राज्यसभा के महासचिव पीसी मोदी ने कहा कि कुल प्राप्त हुए 115 नामांकन पत्रों में से 28 प्रस्तुत करते वक्त ही खारिज कर दिये गए थे।

उन्होंने बताया कि इस चुनाव के लिए 72 उम्मीदवारों के बाकी 87 पत्रों में से 79 को आवश्यक मानदंड पूरा नहीं करने के लिए खारिज कर दिया गया है। उम्मीदवारों की अंतिम सूची 2 जुलाई को नामांकन पत्र वापस लेने की अंतिम तिथि के बाद राजपत्र में प्रकाशित की जायेगी। नामांकन पत्र दाखिल करने वालों में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू और संयुक्त विपक्ष के प्रत्याशी यशवंत सिन्हा शामिल हैं। द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा चुनाव में मुख्य उम्मीदवार हैं। उनके अलावा, कई आम लोगों ने भी देश के शीर्ष संवैधानिक पद के लिए अपने नामांकन पत्र दाखिल किए हैं।

इनमें मुंबई के एक झुग्गी निवासी, राष्ट्रीय जनता दल के संस्थापक लालू प्रसाद यादव के एक हमनाम, तमिलनाडु के एक सामाजिक कार्यकर्ता और दिल्ली के एक प्राध्यापक शामिल हैं। निर्वाचन आयोग ने नामांकन पत्र दाखिल करने वाले लोगों के लिए कम से कम 50 प्रस्तावक और 50 अनुमोदक अनिवार्य कर दिया है। ये प्रस्तावक और अनुमोदक निर्वाचक मंडल के सदस्य होंगे। वर्ष 1997 में, 11वें राष्ट्रपति चुनाव से पहले प्रस्तावकों और अनुमोदकों की संख्या 10 से बढ़ाकर 50 कर दी गई थी, वहीं जमानत राशि भी बढ़ाकर 15,000 रुपये कर दी गई थी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News