पंजाब से हथियारों की बरामदगी दे रही है आतंकी हमलों की साजिशों के संकेत, पाक से ऑपरेट किए जा रहे गैंगस्टर

punjabkesari.in Thursday, Apr 28, 2022 - 11:55 AM (IST)

नेशनल डेस्क: मार्च के बाद से सीमा पार हथियारों की तस्करी के प्रयासों को देखते हुए पंजाब इंटेलिजेंस ने अपने फील्ड अधिकारियों को तुरंत जवाबी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। पिछले हफ्ते पुलिस आयुक्तों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों सहित फील्ड अधिकारियों को भेजे गए एक पत्र में पंजाब के खुफिया प्रमुख ने मार्च के बाद से सीमा चौकियों से बरामद हथियारों और गोला-बारूद के विशाल जखीरे का हवाला दिया, साथ ही आंतरिक सुरक्षा को मजबूत करने और सतर्कता बढ़ाने की आवश्यकता जताई है। मार्च की शुरुआत और अप्रैल के मध्य में की गई की गई हथियारों की बरामदगी राज्य में हर संभव तरीकों से आतंकवादी हमलों को अंजाम देने के प्रयासों को दर्शाती है।

PunjabKesari

पाकिस्तान से ऑपरेट किए जा रहे गैंगस्टर
गैंगस्टर से आतंकवादी बने हरदीप सिंह रिंडा की प्रत्यक्ष संलिप्तता और पाकिस्तान समर्थित मॉड्यूल के भंडाफोड़ के हालिया प्रकरणों ने सीमा पार से भेजे गए हथियारों की आपूर्ति में छोटे स्थानीय गैंगस्टरों के हाथ होने की संभावना को बढ़ा दिया है। सरकार ने पुलिस को राज्य की जेलों में बंद गैंगस्टरों और आतंकवादियों पर कड़ी नजर रखने का भी निर्देश दिया गया है। एसबीएस नगर पुलिस स्टेशन ने हाल ही में सीआईए नवांशहर पुलिस स्टेशन और रोपड़ जिले के अंतर्गत आने वाली पोस्ट को उड़ाने के मॉड्यूल का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने दावा किया था कि मॉड्यूल को रिंडा से निर्देश मिल रहे थे, जो पाकिस्तान में  है और सक्रिय रूप से लुधियाना स्थित अपराधियों के संपर्क में है।

हिमाचल में भी मिला टिफिन बम
हिमाचल के ऊना जिले में एक मॉड्यूल से टिफिन बम भी बरामद किया गया। पंजाब के एक वरिष्ठ खुफिया अधिकारी के अनुसार इन चिंताओं के कारण, जेल विभाग ने लगभग 50 खूंखार अपराधियों को एक जेल से दूसरी जेल में शिफ्ट कर दिया है और उन्हें विशेष प्रकोष्ठों में रखा है। इन अपराधियों में मुख्य रूप से राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) द्वारा हाल ही में हथियारों और नशीली दवाओं की तस्करी के मामलों में मामला दर्ज किया गया है। अतीत में भी नापाक मंसूबों के साथ राज्य में बड़ी मात्रा में हथियारों और गोला-बारूद की तस्करी की खबरें आई हैं। हाल के महीनों में गतिविधियां बढ़ी हैं जो निश्चित रूप से हमारे लिए चुनौती बन सकती हैं।

कब कहां बरामद किए हथियार
बीएसएफ और पंजाब पुलिस ने संयुक्त अभियान के दौरान 9 और 10 मार्च को पांच सेमी ऑटोमेटिक एके 47 राइफल (पाकिस्तान निर्मित), तीन कोल्ट राइफल (अमेरिका निर्मित), पांच पिस्तौल (चीन निर्मित), 10 मैगजीन (एके 47), छह मैगजीन (कोल्ट राइफल), दस मैगजीन (पिस्तौल) बरामद किए हैं। एक अन्य संयुक्त अभियान के दौरान अबोहर सेक्टर में एक सीमा चौकी के पास 49 कारतूस (7.65 मिमी), 29 कारतूस (7.62 मिमी) और 50 कारतूस (5.56 मिमी) भी बरामद किए गए हैं। 6 अप्रैल को अमृतसर से 2.586 किलोग्राम आरडीएक्स युक्त दो आईईडी बरामद किए गए जबकि 17 अप्रैल को अमृतसर से एक विदेशी निर्मित एमपी 5 बंदूक और 44 जिंदा कारतूस बरामद हुए। 18 अप्रैल को नवांशहर से एक जिंदा पी-86 हैंड ग्रेनेड बरामद किया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anil dev

Related News

Recommended News