मिशन 2022ः यूपी पहुंचे भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, पार्टी नेताओं को दिया ''चुनावी गुरूमंत्र''

2021-02-28T18:49:54.36

नेशनल डेस्कः उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में महज 1 साल का वक्त बचा है। ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियों ने चुनावी तैयारियां शुरू कर दी हैं। मिशन 2022 के लिए भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रविवार को दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे। यहां उन्होंने जिला पार्टी कार्यालय का उद्घाटन किया। नड्डा ने चुनावी तैयारियों का जायजा लेते हुए आगामी पंचायत एवं 2022 के विधान सभा चुनावों के मद्देनज़र मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में काशी क्षेत्र के तमाम पार्टी पदाधिकारियों, प्रतिधियों एवं जनप्रतिधियों के साथ अलग-अलग बैठकें कर उन्हें संगठन को और मजबूत करने तथा जीत सुनिश्चित करने वाली तैयारियां अभी से शुरू करने के लिए चुनावी ‘गुरुमंत्र' दिये।

वाराणसी के हरहुआ क्षेत्र के ‘गोकुल धाम' में आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने कहा कि संगठन को और मजबूत करने के प्रत्येक जिलाध्यक्ष को नियमित अंतराल पर मंडल पर एवं नियमित बैठकें करनी चाहिये। पार्टी का सारा ध्यान मंडल, सेक्टर और बूथ रहना चाहिये। जिलाध्यक्षों को मंडल के अध्यक्ष से निरंतर संपर्क बनाकर संगठन हो रहे कार्यों की जानकारी रखनी चाहिए। आवश्यक दिशा निर्देश देते रहना चाहिये।

उन्होंने कहा हर जिलाध्यक्ष का काम है कि वो मंडल अध्यक्ष से जानकारी लें कि निर्धारित तिथि पर बैठकें हुई या नहीं, साथ ही जिला कोर कमेटी की बैठके नियमित होनी चाहिये। पार्टी का मानना है कि संगठन की सबसे निचली इकाई यानी बूथ सबसे मजबूत होना चाहिये। इसलिए संगठन द्वारा तय समय सीमा में बूथ समिति एवं पन्ना प्रमुख बनाना है।

नड्डा ने सरकारी योजनाओं का शतप्रतिशत लाभ आम जनता तक पहुंचाने के लिए संगठन और सरकार के बीच तालमेल पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि संगठन के कार्यकर्ताओं को केंद्र एवं राज्य सरकार की तमाम कल्याणकारी योजनाओं की अच्छी जानकारी होनी चाहिए ताकि समाज अंतिम पंक्ति में खड़े लोगों तक उसका लाभ पहुंच सके।

पूर्व केंद्रीय मंत्री नड्डा ने संगठनिक ढांचे के अलावा पंचायत, विधानसभा से लेकर लोक सभा क्षेत्रों तक के पार्टी पदाधिकारियों एवं जन प्रतिधियों से अधिक से अधिक जनता से निरंतर संवाद बनाये रखने एवं उनके सुखदुख में शामिल होने की नसीहत दी।  उन्होंने कहा कि पदाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों से कहा कि पाटर्ी द्वारा तय ज़म्मिेदारी पूरा करने के लिए पूरी तका झोंक दें। पंचायत चुनाव के बाद राज्य में विधान सभा के चुनाव होंगे। दोनों चुनावों के मद्देनज़र पार्टी को और मजबूत करने का प्रयास करें।  

 


Content Writer

Yaspal

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static