कश्मीर के मुख्यधारा के दलों ने मुख्य सचिव के बयान पर दी तीखी प्रतिक्रिया

2020-08-08T23:34:51.483

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के मुख्यधारा के राजनीतिक दलों ने भ्रष्टाचार के संबंध में मुख्य सचिव बी वी आर सुब्रमण्यम के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया जताते हुए कहा कि इस तरह के आरोप उनके पेशेवर रवैये और निष्पक्षता पर बड़ा सवाल उठाते हैं ।  सुब्रमण्यम ने कहा है कि जम्मू कश्मीर की व्यवस्था बदहाल हो चुकी थी और मुख्यधारा के दलों और अलगाववादी संगठनों के नेताओं द्वारा किए जाने वाले च्फर्जीवाड़ा , कुप्रशासन, भ्रष्टाचार के कारण पिछले कई वर्षों से कोई व्यवस्था नहीं बची थी। उन्होंने कहा कि इसी वजह से पिछले साल जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किए जाने के केंद्र के फैसले के बाद राजनीतिक और अलगाववादी नेताओं की हिरासत पर च्च्किसी ने भी आवाज नहीं उठायी ।'

 

नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रवक्ता इमरान नबी डार ने कहा कि एक नौकरशाह द्वारा इस तरह के आरोप लगाए जाने से उनके पेशेवर रवैये, कार्य संस्कृति और निष्पक्षता पर सवाल उठता है । माकपा के वरिष्ठ नेता एम वाई तारिगामी ने पूछा कि पिछले दो साल से क्षेत्र में निर्वाचित सरकार नहीं है ऐसे में जम्मू कश्मीर में भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए मुख्य सचिव के प्रशासन ने क्या कदम उठाए । जम्मू कश्मीर पीपुल्स कॉन्फ्रेंस (जेकेपीसी) ने भी मुख्य सचिव के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया दी । पार्टी के प्रवक्ता अदनान अशरफ मीर ने कहा,'कश्मीर को लेकर लोग भुलावे में आ जाते हैं। मुख्य सचिव भी इसके शिकार हुए हैं । हमें उनसे हमदर्दी है और उम्मीद है कि वह इस भुलावे से बाहर निकलेंगे।'


Monika Jamwal

Related News