पश्चिम बंगालः महुआ मोइत्रा की बढ़ी मुश्किलें, मां काली के विवादित बयान पर दर्ज हुई तीसरी शिकायत

punjabkesari.in Wednesday, Jul 06, 2022 - 05:05 PM (IST)

नेशनल डेस्कः तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सांसद महुआ मोइत्रा के बयान के बाद देश में विवाद छिड़ गया है। महुआ मोइत्रा के खिलाफ तीन शिकायतें दर्ज कराई गई हैं। इनमें एक शिकायत पश्चिम बंगाल भाजपा ने दर्ज कराई है। भाजपा ने मां काली के अपमान को लेकर मोइत्रा की गिरफ्तारी की मांग की है। इससे पहले टीएमसी ने अपने ही सांसद के बयान से किनारा कर लिया था। टीएमसी ने महुआ के बयान को निजी बयान बताया था।

देवी काली पर अपनी सांसद महुआ मोइत्रा की विवादास्पद टिप्पणी को लेकर विपक्ष की कड़ी आलोचना का सामना कर रही तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नेतृत्व ने बुधवार को कहा कि पार्टी किसी भी तरह से इन टिप्पणियों का समर्थन नहीं करती है और भविष्य में इस तरह के बयान देने से उन्हें आगाह किया जा सकता है। मोइत्रा ने मंगलवार को यह कह कर विवाद खड़ा कर दिया कि जिस तरह हर व्यक्ति को अपने तरीके से देवी-देवताओं की पूजा करने का अधिकार है, उसी तरह बतौर एक व्यक्ति उन्हें देवी काली की मांस भक्षण करने वाली एवं मदिरा स्वीकार करने वाली देवी के रूप में कल्पना करने का पूरा अधिकार है।

टीएमसी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, “पार्टी ने इस मामले को गंभीरता से लिया है और वह किसी भी तरह से ऐसी टिप्पणियों का समर्थन नहीं करती है। पार्टी की ओर से महुआ मोइत्रा से इस संबंध में स्पष्टीकरण मांगा जाएगा और उन्हें भविष्य में इस तरह की टिप्पणी करने को लेकर आगाह किया जाएगा।” तृणमूल कांग्रेस ने मोइत्रा की टिप्पणी से अपनी दूरी बना ली है।

पार्टी ने मंगलवार शाम ट्वीट किया, ‘‘ इंडिया टुडे कॉनक्लेव ईस्ट 2022 में महुआ मोइत्रा द्वारा देवी काली पर की गई टिप्पणी एवं व्यक्त किये गये विचार उनके व्यक्तिगत विचार हैं और पार्टी उसका किसी भी तरीके से समर्थन नहीं करती है। तृणमूल कांग्रेस इस तरह की टिप्पणी की कड़ी निंदा करती है।''

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पश्चिम बंगाल इकाई ने बुधवार को उनकी (मोइत्रा की) गिरफ्तारी की मांग की। भाजपा ने पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा कि अगर मोइत्रा के खिलाफ 10 दिनों में कार्रवाई नहीं की गई तो वह अदालत का रुख करेगी।  तृणमूल कांग्रेस की लोकसभा सदस्य महुआ मोइत्रा ने मंगलवार को यह टिप्पणी कर विवाद खड़ा कर दिया कि जिस तरह हर व्यक्ति को अपने तरीके से देवी-देवताओं की पूजा करने का अधिकार है, उसी तरह बतौर एक व्यक्ति उन्हें देवी काली के मांस भक्षण करने वाली एवं मदिरा स्वीकार करने वाली देवी के रूप में कल्पना करने का पूरा अधिकार है। 

इस बीच, टीएमसी सूत्रों ने बताया कि मोइत्रा ने पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल को ‘अनफॉलो' कर दिया है। हालांकि, वह अभी भी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को इस माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर ‘फॉलो' कर रही हैं। टीएमसी नेता ने कहा, ‘‘हम इस पर टिप्पणी नहीं कर सकते हैं कि उन्होंने किसे अनफॉलो करने का फैसला किया है। सिर्फ वह इस बारे में बात कर सकती हैं। '' 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Related News

Recommended News