DSP दविंदर सिंह पर मंदिर की जमीन हड़पने का आरोप, कश्मीरी पंडितों ने दर्ज करवाया था केस

2020-01-19T14:03:32.353

जम्मू: डीएसपी दविंदर सिंह मामले की जांच एनआईए ने अपने हाथों में ले ली है। डीएसपी के खिलाफ एनआईए ने आर्म्स एक्ट और यूएपीए की कई धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। वहीं दविंदर के खिलाफ दुर्गानाथ मंदिर की जमीन हड़पने का आरोप है। कश्मीरी पंडित संघर्ष समिति ने साल 2016 मे पीएम कार्यालय को एक दस्तावेज भेजकर यह आरोप लगाया था।

समिति ने इस दस्तावेज में जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में दुर्गानाथ मंदिर की जमीन हड़पने का आरोप लगाया था। इसमें दस्तावेज में डीएसपी दविंदर का नाम भी था लेकिन उस समय मामले पर कोई कार्रवाई नही हुई थी। ऐसे में अब एनआईए ने इस मामले में कश्मीरी पंडित संघर्ष समीति के सदस्य को दिल्ली आकर अपने बयान दर्ज कराने को कहा गया है।

वहीं पूछताछ के दौरान पता लगा है कि पिछले साल दविंदर सिंह ने तीन बार बांग्लादेश का दौरा किया था। कयास लगाए जा रहे हैं कि बांग्लादेश में ही वह आईएसआई के संपर्क में आया। क्योंकि बांग्लादेश दौरे के दौरान वह तीनों बार कुछ दिनों के लिए वहा रुका था। बता दें कि उसकी दो बेटियां है और दोनों बांग्लादेश में पढ़ाई कर रही है। बेटियों के पढ़ाई का खर्च आईएसआई की ओर से वहन किए जाने का शक है। इसी के तहत बैंक खातों का खंगाला जा रहा है।

आईबी और मिलिट्री इंटेलिजेंस कर चुकी है डीएसपी देवेंद्र सिंह से पूछताछ 
डीएसपी देवेंद्र सिंह से आईबी और मिलिट्री इंटेलिजेंस के अधिकारी पहले ही पूछताछ कर चुके हैं। सूत्रों ने जानकारी दी है कि हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी नावेद बाबू और अल्ताफ बाबू दो दिनों तक श्रीनगर के बादामी बाग के बगल में मौजूद देवेंद्र सिंह के घर में रुके थे। देवेंद्र सिंह का संसद हमले का आतंकी अफजल गुरु से कनेक्शन भी सामने आया था। बताया जा रहा है कि हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों को पंजाब और दिल्ली भेजने की तैयारी थी।

विवादों से रहा है देवेंद्र सिंह का नाता
गौरतलब है कि डीएसपी देवेंद्र सिंह का शुरू से ही विवादों से नाता रहा है। वह 1992 में जम्मू कश्मीर पुलिस में भर्ती हुआ था। बताया जाता है कि वह प्रोबेशन पर था, उसी दौरान उस पर भ्रष्टाचार का आारोप लगा था। कहा जाता है कि उस समय वह नशीले पदार्थों की तस्करी के आरोप में पकड़े गए नशीले पदार्थों को गायब कर दिया था। 

कैसे हुई गिरफ्तारी?
गौरतलब हैकि आतंकवादी गतिविधियों को लेकर खुफिया जानकारी के आधार पर शनिवार शाम को अनंतनाग के वानपोह में सुरक्षा बलों ने एक वाहन को रोका। सुरक्षा बलों ने वाहन से 2 आतंकवादियों सहित डी.एस.पी. देविंद्र सिंह को गिरफ्तार किया था, जिनके पास से 1 ए.के.-47 राइफल, एक पिस्तौल और अन्य हथियार एवं गोला-बारूद बरामद किया गया था। गिरफ्तार दोनों आतंकवादी हिजबुल के शीर्ष कमांडर हैं, जिनकी कई आतंकवादी घटनाओं के सिलसिले में तलाश थी।

 


Author

rajesh kumar

Related News