गुरु पूर्णिमा पर पीएम मोदी का संदेश, बोले- भगवान बुद्ध के मार्ग पर चलकर देश ने हर चुनौती की पार

2021-07-24T09:32:46.953

नेशनल डेस्क:   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  धम्म चक्र दिवस पर अपना संदेश देशवासियों से साझा कर रहे हैं। आषाढ पूर्णिमा के अवसर पर धम्म चक्र दिवस मनाया जाता है। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि  आज के ही दिन भगवान बुद्ध ने बुद्धत्व की प्राप्ति के बाद अपना पहला ज्ञान संसार को दिया था। इससे पहले  उन्होंने  ट्वीट कर लिखा कि गुरु पूर्णिमा के पावन अवसर पर देशवासियों को हार्दिक बधाई।PunjabKesari

पीएम मोदी के संबाेधन की मुख्य बातें 

  • हमारे यहां कहा गया है- जहां ज्ञान है, वही पूर्णत: है, वही पूर्णिमा है।
  • जब उपदेश करने वाले स्वयं बुद्ध हो तो स्वाभाविक है कि ज्ञान संसार के कल्याण का पर्याय बन जाता है।
  • सारनाथ में भगवान बुद्ध ने पूरे जीवन का, पूरे ज्ञान का सूत्र हमें बताया था।
  • उन्होंने दुःख के बारे में बताया, दुःख के कारण के बारे में बताया, ये आश्वासन दिया कि दुःखों से जीता जा सकता है, और इस जीत का रास्ता भी बताया।
  • आज कोरोना महामारी के रूप में मानवता के सामने वैसा ही संकट है, जब भगवान बुद्ध हमारे लिए और भी प्रासंगिक हो जाते हैं।
  • भगवान बुद्ध के मार्ग पर चलकर ही बड़ी से बड़ी चुनौती का सामना हम कैसे कर सकते हैं। भारत ने ये करके दिखाया है।
     

PunjabKesari

भगवान बुद्ध ने हमें जीवन के लिए अष्टांग सूत्र दिए।
सम्यक दृष्टि
सम्यक संकल्प
सम्यक वाणी
सम्यक कर्म
सम्यक आजीविका
सम्यक प्रयास 
सम्यक मन 
सम्यक समाधि

PunjabKesari

 यह दिन दुनिया भर के बौद्धों द्वारा धर्म चक्र प्रवर्तन या ‘धर्म के चक्र के घूमने’ के दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।  ​यह दिन बौद्धों और हिंदुओं दोनों ही के द्वारा अपने-अपने गुरु के प्रति सम्‍मान व्‍यक्‍त करने के लिए ‘गुरु पूर्णिमा’ के रूप में भी मनाया जाता है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vasudha

Recommended News