किसान संगठनों ने 27 नवंबर तक टाली बैठक, बोले- कैबिनेट मीटिंग के बाद लेंगे कोई फैसला

punjabkesari.in Sunday, Nov 21, 2021 - 02:36 PM (IST)

नेशनल डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कानून वापिस लेने का ऐलान करते हुए किसानों से आंदोलन खत्म कर घर लौटने की अपील भी की थी लेकिन किसान वेट एंड वॉच की नीति पर चल रहे हैं। कृषि कानून की वापसी के ऐलान के बाद किसानों ने आंदोलन की दशा और दिशा पर आगे की रणनीति बनाने के लिए आज बैठक बुलाई थी। इस बैठक में संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) में शामिल सभी किसान संगठनों के प्रतिनिधियों को शामिल होना था। इस बैठक को अब 27 नवंबर तक टाल दिया गया है।

PunjabKesari

संयुक्त किसान मोर्चा के अनुसार लखनऊ में होने जा रही महापंचायत भी अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक ही होगी। बलबीर सिंह राजेवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि 22 नवंबर को महापंचायत, 26 नवंबर को आंदोलन के एक साल पूरे होने पर दिल्ली की हर सीमा पर गैदरिंग के कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं होगा। राजेवाल ने कहा कि 29 नवंबर को संसद मार्च के कार्यक्रम को लेकर 27 नवंबर को होने वाली बैठक में फैसला लिया जाएगा कि ट्रैक्टर मार्च निकालना है या नहीं। राजेवाल ने कहा कि हमारे जो बाकी मांगें रह गई है उसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखेंगे।

PunjabKesari

बलबीर सिंह राजेवाल ने कहा कि पीएम मोदी को लिखे जाने वाले ओपन लेटर में हम MSP समिति, इसके अधिकार, इसकी समय सीमा, इसके कर्तव्यों को लेकर लिखेंगे और इसके अलावा बिजली विधेयक 2020, किसानों पर हुए मामलों की वापसी के साथ ही हम लखमीपुर खीरी को लेकर मंत्री अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने के लिए भी अपनी मांग रखेंगे। संयुक्त किसान मोर्चा आंदोलन को लेकर कोई भी फैसला जल्दबाजी में नहीं लेना चाहता। किसान 24 नवंबर की संभावित कैबिनेट मीटिंग तक इंतजार करना चाहते हैं। माना जा रहा है कि कैबिनेट की इस मीटिंग में कृषि बिल वापस लेने के फैसले को औपचारिक मंजूरी दी जा सकती है।

PunjabKesari

बता दें कि सिखों के पहले गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह कहते हुए तीनों कृषि कानून वापिस लेने का ऐलान किया है कि हमारी सरकार किसानों को समझा नहीं सकी कि यह उनके हित में था। पीएम मोदी ने कहा कि इसलिए मैं तीनों कृषि कानून वापिस लेने का ऐलान करता हूं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News