कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते झारखंड में शैक्षणिक संस्थान 15 जनवरी तक बंद

punjabkesari.in Monday, Jan 03, 2022 - 10:27 PM (IST)

रांचीः झारखंड में कोविड-19 के मामलों में हो रही वृद्धि को देखते हुए राज्य सरकार ने सोमवार को महामारी संबंधी प्रतिबंधों को दोबारा लागू करने का निर्णय किया और 15 जनवरी तक सभी शैक्षणिक संस्थानों और पर्यटन स्थलों को बंद कर दिया। इसके अलावा कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति को 50 फीसदी पर सीमित करने का निर्देश दिया गया है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में यहां वरिष्ठ अधिकारियों की हुई बैठक के बाद इसकी घोषणा की गई। 

सरकार द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है, ‘‘मुख्यमंत्री ने सभी जिलों को सतर्क रहने का निर्देश दिया है। कोविड-19 मामलों में अचानक वृद्धि को देखते हुए ... सरकारी और निजी कार्यालयों को 50 प्रतिशत कार्यबल के साथ काम करने की अनुमति दी जाएगी। बायोमेट्रिक उपस्थिति पर फिलहाल प्रतिबंध लगाया जा रहा है।'' इसमें कहा गया है कि अगले 12 दिनों तक स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। 

बयान में कहा गया है, ‘‘हालांकि, इन शैक्षणिक संस्थानों में 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ प्रशासनिक काम जारी रह सकता है।'' इसमें कहा गया है कि चिड़ियाघर समेत राज्य के सभी पर्यटन स्थलों को बंद कर दिया गया है। इसके अलावा स्वीमिंग पूल, जिम और स्टेडियम भी बंद रहेंगे। 

सरकारी बयान में कहा गया है, ‘‘सिनेमा हॉल, रेस्तरां, बार और शॉपिंग मॉल को अब आधी क्षमता के साथ संचालित करने की अनुमति होगी।'' दवा की दुकानों, रेस्तरां और बार को छोड़ कर सभी दुकानों को रात आठ बजे तक बंद करने के लिए कहा गया है। झारखंड में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1057 नए मामले सामने आये थे । 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News