See More

बांके बिहारी के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को करना होगा इंतजार, अभी नहीं खुलेंगे मंदिरों के दरबार

2020-08-02T11:11:07.677

नेशनल डेस्क: वृन्दावन के विश्वप्रसिद्ध ठा. बांकेबिहारी मंदिर में जीर्णोद्धार कार्य के चलते 30 सितम्बर तक आम श्रद्धालुओं के लिए मंदिर के दर्शन बंद रखने का निर्णय होने के बाद वहां के अन्य मंदिर संचालकों ने भी फिलहाल 31 अगस्त तक कोरोना वायरस महामारी के चलते मंदिरों को बंद रखने का निर्णय लिया है। वृन्दावन के प्राचीन मंदिरों में पहली श्रेणी में आने वाले सप्तदेवालयों में से चार प्रमुख देवालयों ने पहल करते हुए ऑनलाइन बैठक में निर्णय लिया कि वे लोग 31 अगस्त मंदिर बंद रखेंगे। उसके बाद कई अन्य मंदिर भी उनकी राह पर चल पड़े हैं। 

PunjabKesari

इन प्रमुख मंदिरों में ठा. राधावल्लभ मंदिर, ठा. राधारमण मंदिर, राधा श्याम सुंदर मंदिर, राधा गोपीनाथ मंदिर व मदनमोहन मंदिर शामिल हैं। बताया जा रहा है कि कि इस दौरान मंदिर में ठाकुरजी की सेवा-पूजा, आरती, भोग-राग आदि सेवाएं सेवायत गोस्वामियों द्वारा विधिवत रूप से पूर्व की भांति निरंतर की जाती रहेंगी। इस दौरान ठाकुरजी के श्रीविग्रहों के दैनिक दर्शन, आरती आदि ऑनलाइन मंदिरों की वेबसाइट एवं सोशल मीडिया (फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम एवं यूट्यूब) आदि पर निरंतर उपलब्ध रहेंगे। 

PunjabKesari

बैठक में सनातन किशोर गोस्वामी, कृष्णगोपालानंद देव गोस्वामी, राजा गोपीनाथ गोस्वामी, कनिका प्रसाद गोस्वामी, विजय किशोर गोस्वामी, पूर्णचंद्र गोस्वामी, कृष्ण बलराम गोस्वामी एवं परमेश्वर दास आदि उपस्थित रहे। गौरतलब है कि ठा. बांकेबिहारी मंदिर की कार्यपरिषद के सदस्यों की बैठक के बाद मंदिर को आम दर्शनार्थियों के लिए मरम्मत एवं जीर्णोद्धार कार्य के कारण बंद ही रखने का निर्णय लिया गया। मंदिर प्रबंधक मुनीष कुमार शर्मा ने बताया कि अग्रिम आदेश जारी होने तक आम दर्शनार्थियों के लिए बंद रखने का निर्णय लिया गया है। इस बीच मंदिर के सेवायत गोस्वामी, कर्मचारी एवं जीर्णोद्धार कार्य लगी टीम लोग ही मंदिर में प्रवेश कर सकेंगे। उन्होंने आम भक्तों से व्यवस्था में सहयोग की अपील की है। 

PunjabKesari


vasudha

Related News