पाकिस्तान: ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर भीड़ का हमला, भारत ने कहा- फौरन कार्रवाई करे PAK

punjabkesari.in Saturday, Jan 04, 2020 - 06:20 PM (IST)

इंटरनेशनल डेस्कः पाकिस्तान के ननकाना साहिब में शुक्रवार को सैंकड़ों की भीड़ ने सिखों के सबसे पवित्र धर्मस्थलों में से एक ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर पत्थरबाजी की। दोपहर से ही भीड़ ने गुरुद्वारे को घेर लिया है। घटना से जुड़े वीडियो में एक कट्टरपंथी सिखों को ननकाना साहिब से भगाने और इस पवित्र शहर का नाम बदलकर गुलाम अली मुस्तफा करने की धमकी देते दिख रहा है। कट्टरपंथियों की भीड़ ने गुरुद्वारे को घेर रखा है। इस वजह से पहली बार गुरुद्वारा जन्म स्थान ननकाना साहिब में भजन-कीर्तन रद्द करना पड़ा है। 


भारत ने की पाकिस्तान में गुरद्वारा ननकाना साहिब में तोड़फोड़ की कड़ी निंदा
वहीं भारत ने पाकिस्तान में पवित्र ननकाना साहिब गुरद्वारे में तोड़फोड़ की शुक्रवार को कड़ी निन्दा की और पड़ोसी देश से वहां सिखों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाने का आह्वान किया। विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान में श्री गुरु नानक देव जी के जन्मस्थान पवित्र ननकाना साहिब में सिखों के साथ हिंसा हुई है। विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘ भारत इस पवित्र स्थान पर तोड़फोड़ और बेअदबी की हरकतों की कड़ी निंदा करता है।'' इसने कहा, ‘‘ हम पाकिस्तान सरकार से सिखों की सुरक्षा एवं कल्याण सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाने का आह्वान करते हैं।'' मंत्रालय ने कहा, ‘‘ उन बदमाशों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए जो इस पवित्र गुरद्वारे में बेअदबी में शामिल हैं और जिन्होंने अल्पसंख्यक सिखों पर हमला किया है।'' मीडिया की खबरों के अनुसार गुरद्वारा ननकाना साहिब पर एक भीड़ ने हमला किया। खबरों के अनुसार शुक्रवार को ननकाना साहिब के स्थानीय लोगों ने शुक्रवार को सिख श्रद्धालुओं पर पथराव किया। 

PunjabKesari

सिख लड़की का जबरन धर्मांतरण करने वाले कर रहे हैं भीड़ का नेतृत्व
 भीड़ का नेतृत्व पिछले साल ननकाना साहिब की एक सिख लड़की जगजीत कौर को अगवा करने और जबरन धर्मांतरण कर निकाह करने के आरोपी मोहम्मद हसन का परिवार कर रहा है। उनका आरोप है कि अपनी मर्जी से इस्लाम कबूलने और शादी करने वाली लड़कियों को लेकर सिख समुदाय बेवजह हंगामा खड़ा करता है। बता दें कि पिछले साल जिस जगजीत कौर का जबरन धर्मांतरण हुआ था, वह ननकाना साहिब गुरुद्वारे के ही ग्रंथी की बेटी है।

PunjabKesari

गुरुद्वारा ननकाना साहिब बिल्कुल सुरक्षित: पाकिस्तान सरकार (
पाकिस्तान ने उन खबरों को खारिज कर दिया जिनमें कहा गया था कि गुरुद्वारा ननकाना साहिब को खास समूह के लोगों ने अपवित्र किया। गुरुद्वारा जन्म स्थान के नाम से मशहूर गुरुद्वारा ननकाना साहिब सिख धर्म के लोगों के लिए बेहद पवित्र स्थल है क्योंकि यहां सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव का जन्म हुआ था। पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने मध्यरात्रि में एक बयान में कहा कि पंजाब प्रांत के अधिकारियों ने यह जानकारी दी कि वहां दो मुस्लिम समूहों के बीच किसी छोटी घटना को लेकर झड़प हुई थी जिसमें तत्काल हस्तक्षेप करके आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। गुरुद्वारा बिल्कुल सुरक्षित है और इसे कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। बयान में कहा गया कि पाकिस्तान सरकार कानून-व्यवस्था बनाए रखने और खास तौर पर अल्पसंख्यकों को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध है। 




PunjabKesari

क्या है वीडियो में
वीडियो में दिख रहा है कि कट्टरपंथियों की भीड़ ने गुरुद्वारे को घेर रखा है। इस वजह से पहली बार ननकाना साहिब में भजन-कीर्तन को रद्द कर दिया गया। यहां गुरु गोविंद सिंह जी के गुरुपरब के मौके पर अखंड पाठ शुरू होने वाला था।  सिख समुदाय के लोग गुरुद्वारे के अंदर फंसे हुए थे। पूरे इलाके में दहशत का माहौल है। 


दिल्ली में पाक दूतावास के बाहर शनिवार को प्रदर्शन करेंगे सिख 
पाकिस्तान में गुरुद्वारा जन्म स्थान ननकाना साहिब पर हमले के विरोध में दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति और अकाली दल ने शनिवार को दिल्ली में पाकिस्तानी दूतावास के बाहर प्रदर्शन का ऐलान किया है। DSGMC और अकाली दल शनिवार 4 जनवरी को पाकिस्तानी दूतावास के बाहर शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करेंगे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Yaspal

Related News

Recommended News