लखीमपुर हिंसा को लेकर राष्ट्रपति से मिला कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल, राहुल बोले- अगर पिता मंत्री है तो निष्पक्ष जांच कैसे होगी

10/13/2021 4:46:41 PM

नेशनल डेस्क: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने लखीमपुर खीरी हिंसा के मामले को लेकर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा की बर्खास्तगी की मांग करते हुए बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। कांग्रेस के इस प्रतिनिधिमंडल में राहुल गांधी के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा भी शामिल थीं। हाल ही में कांग्रेस ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर मिलने का समय मांगा था। कांग्रेस लखीमपुर खीरी की घटना को लेकर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा को बर्खास्त करने की मांग कर रही है।

PunjabKesari

राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल के नेता राहुल गांधी ने राष्ट्रपति परिसर के बाहर पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि कुछ दिन पहले हम लखीमपुर खीरी में जिन परिवारों के सदस्यों को कुचला गया, उनसे बातचीत की थी, जिससे पता चला कि सबसे पहले वे चाहते है कि जिस व्यक्ति ने हत्या की है, उसको सजा मिले और जिस व्यक्ति ने हत्या की है उसके पिता देश के गृह राज्यमंत्री है, इसलिए जब तक वह केंद्र सरकार में मांत्रि है तब तक सही जांच नही हो सकती और पीड़ितों को न्याय नहीं मिल सकता है।

उन्होंने कहा 'हमने राष्ट्रपति से कहा कि यह सिर्फ इन परिवारों की आवाज नहीं है, ये हिंदुस्तान के हर किसान की आवाज है। उस आवाज को कुचला जा रहा है, दबाया जा रहा है। केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री ने हत्या से पहले देश के सामने कहा है कि‘सुधरोगे नहीं, तो मैं सुधार दूंगा।'मतलब किसानों को धमकी दी और फिर उस धमकी पर एक्शन लिया और किसानों को मारा।' गांधी ने आगे कहा ' राष्ट्रपति जी से कहा कि जब तक ये व्यक्ति मंत्री पद पर है, तब तक न्याय नहीं मिल सकता। इस मंत्री को हटा देना चाहिए और उच्चतम न्यायालय की दो जजो से इसकी जांच कराई जानी चाहिए। जिन्होंने भी हत्या की है। मडर्र किया है, उनको सजा मिलनी चाहिए।' 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anil dev

Recommended News