PM मोदी पर सोरेन के ट्वीट पर BJP के मंत्रियों का पलटवार, बोले- ओछी हरकत कर दी आपने हेमंत

5/7/2021 3:49:23 PM

नेशनल डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करने पर भाजपा नेताओं ने शुक्रवार को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को आड़े हाथों लिया और आरोप लगाया कि उन्होंने संवैधानिक पद की गरिमा को धूमिल किया। भाजपा नेताओं ने सोरेन पर पलटवार करते हुए कहा कि आपने ओछी हरकत कर दी। दरअसल, प्रधानमंत्री ने गुरुवार को फोन पर सोरेन से बात की थी और झारखंड में कोरोना की स्थिति पर चर्चा की थी। इसके बाद हेमंत सोरेन ने ट्वीट किया था, ‘‘आज आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने फोन किया। उन्होंने सिर्फ अपने मन की बात की। बेहतर होता यदि वो काम की बात करते और काम की बात सुनते।''

PunjabKesari

झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के नेता हेमंत सोरेन पर हमला करते हुए केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने हेमंत सोरेन को जवाब देते हुए लिखा कि कृपया संवैधानिक पदों की गरिमा को इस निम्न स्तर तक न ले जाएं. महामारी के इस कठिन समय में कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए, हम एक टीम इंडिया हैं। वहीं मिजोरम के मुख्यमंत्री जोराम थांगा ने ट्वीट कर लिखा कि हम काफी खुशनसीब हैं जो हमें नरेंद्र मोदी जैसा जिम्मेदार प्रधानमंत्री मिला है, जब भी उनका फोन मुझे आता है तो मैं काफी अच्छा महसूस करता हूं। भाजपा के संगठन महासचिव बी एल संतोष ने ट्वीट किया, ‘‘कुछ नेता इस स्तर तक गिर गए हैं। प्रधानमंत्री फोन करते हैं और covid-19 की स्थिति पर चर्चा करते हैं। कम से कम अपने पद की गरिमा का तो ख्याल रखना चाहिए।''

PunjabKesari

भाजपा सांसद और पार्टी के मीडिया विभाग के प्रभारी अनिल बलूनी ने भी हेमंत सोरेन की आलोचना की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ना आपको देश के संघीय ढांचे का ज्ञान, न सामान्य शिष्टाचार की समझ, न बड़ों से व्यवहार का प्रशिक्षण और न ही अपनी कुनीतियों से बेहाल झारखंड की चिंता है हेमंत सोरेन। जनता आपकी गलत नीतियों की भेंट न चढ़े। आप झारखंड के लोगों को उनके हाल पर छोड़ सकते हो मगर मोदी सरकार हर क्षण उनके साथ है।''

PunjabKesari

असम भाजपा के नेता हिमंत बिस्व सरमा ने कहा कि सोरेन का ट्वीट सामान्य शिष्टाचार के खिलाफ है और लोगों की परेशानियों का मजाक उड़ाने जैसा है क्योंकि प्रधानमंत्री ने उनका हालचाल जानने के लिए फोन किया था। उन्होंने कहा कि झारखंड के मुख्यमंत्री ने पद की गरिमा को धूमिल किया है। प्रधानमंत्री ने गुरुवार को आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, ओड़िशा के साथ ही झारखंड के मुख्यमंत्री को फोन कर covid-19 की स्थिति का जायजा लिया था। झारखंड सरकार के सूत्रों का कहना है कि सोरेन इस बात से दुखी थे कि वह राज्य की पीड़ा प्रधानमंत्री के समक्ष नहीं रख सके और प्रधानमंत्री ने सिर्फ अपनी बात की।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Recommended News

static