भाजपा ने गंवा दिए NDA के दो शेर, अब कुछ नहीं बचा उनके पास: शिवसेना

punjabkesari.in Monday, Sep 28, 2020 - 11:08 AM (IST)

नेशनल डेस्क: शिवसेना ने एक बार फिर किसानों के हितों में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से अलग होने पर शिरोमणि अकाली दल को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी। शिवसेना का कहना है कि भाजपा ने NDA के दो शेरों को गंवा दिया है, इस तथ्य को वो कैसे इनकार कर सकते हैं। पार्टी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि जिन कारणों से एनडीए की स्थापना हुई, वे कारण ही मोदी के बवंडर में नष्ट हो गए।

PunjabKesari

शिवसेना के मुखपत्र सामना में हाल ही में एनडीए छोड़ने वाले अकाली दल के बारे में लेख लिखा है, जिसमें कहा गया कि पंजाब के अकाली दल ने भी एनडीए अर्थात राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन छोड़ दिया है। उनका भाजपा के साथ एक लंबा जुड़ाव था, लेकिन अब वो छूट गया है। अकाली दल के सर्वेसर्वा प्रकाश सिंह बादल की बहू पहले ही किसानों के मुद्दों पर केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे चुकी हैं. ‘चलो अच्छा हुआ पीछा छूटा’ की तर्ज पर अकाली दल का इस्तीफा स्वीकारा गया।

PunjabKesari

सामना में लिखा कि अकाली दल को लगा था कि उनसे कहा जायेगा कि विचलित ना हो, ऐसा कदम न उठाएं, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। पार्टी ने कहा कि केंद्र सरकार की सत्ता हाथ में है तो कुछ भी असंभव नहीं है, लेकिन सत्ता का ‘किला’ भले जीत लिया हो पर वे NDA के दो शेरों को गंवा चुके हैं, इस तथ्य से कैसे इनकार किया जा सकता है? उन्होंने कहा कि  बीजेपी ने एक पुराने, सच्चे सहयोगी के छोड़ने पे आंसू की एक बूंद तक नहीं बहाई। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के दो मुख्य स्तंभों के बाहर जाने से क्या वास्तव में कोई एनडीए बचा है। यह सवाल बना हुआ है। 

PunjabKesari

दरअसल शिअद ने शनिवार रात को राजग से अपने संबंध तोड़ने की घोषणा की। वह हाल के वर्षों में भाजपा की अगुवाई वाले राजग से अलग होने वाली तीसरी बड़ी पार्टी है। इससे पहले शिवसेना और तेदेपा भी राजग से अलग हो चुकी हैं। गत वर्ष शिवसेना ने महाराष्ट्र में सत्ता साझेदारी के मुद्दे पर भाजपा से टकराव के बाद राजग को अलविदा कह दिया था। शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता रावत ने ट्वीट कर कहा था कि शिवसेना किसानों के हित में राजग से अपने रिश्ते तोड़ने के अकाली दल के फैसले की सराहना करती है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

vasudha

Related News

Recommended News