कोरोना से लड़ाई में सेना ने संभाली कमान,राजनाथ सिंह बोले-लोगों की परेशानियां दूर करने में जुटे जवान

5/7/2021 10:25:11 AM

नेशनल डेस्क: भारतीय सेना ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों से निपटने में नागरिक प्रशासन के अधिकारियों की मदद करने में बेहतर समन्वय के लिए एक ‘कोविड प्रबंधन प्रकोष्ठ' स्थापित किया है। अधिकारियों ने बताया कि प्रकोष्ठ का दायित्व राज्य सरकारों और केंद्रशासित प्रदेशों से मदद का आह्वान मिलने पर सेना के प्रतिक्रिया समन्वय में व्यापक क्षमता लाने का है। सेना विभिन्न राज्यों में नागरिक प्रशासन के अधिकारियों की मदद के लिए पहले ही अपने महत्वपूर्ण चिकित्सा संसाधन तैनात कर चुकी है।

PunjabKesari

लोगों की परेशानियां दूर करने में जुटे रक्षा संगठन : राजनाथ
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय सशस्त्र सेनाएं तथा रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO), नेशनल कैडेट कार्प्स जैसे संगठन देश में covid-19 संक्रमण बढ़ने के मद्देनजर लोगों को पेश आने वाली परेशनियों को दूर करने में जुटे हैं। राजनाथ ने अपने वेबसाइट पर ब्लाग पोस्ट में कोविड से मुकाबला करने से संबंधित नई सुविधाएं स्थापित करने, स्वास्थ्य पेशेवरों की तैनाती जैसे कार्यों का जिक्र किया जो रक्षा मंत्रालय से जुड़े संगठनों द्वारा किए गए हैं। बता दें कि भारत covid-19 महामारी की दूसरी लहर से जूझ रहा है और कई राज्यों में अस्पतालों में आक्सीजन तथा दवा, उपकरणों, बिस्तारों की कमी का सामना करना पड़ रहा है।

PunjabKesari

राजनाथ सिंह ने बताया कि सेना, नौसेना और वायु सेना किस तरह से देशवासियों की जान बचाने में लगी हुई हैं। उन्होंने बताया कि इस वायरस से निपटने के लिए सेना को आपात वित्तीय शक्तियां दी गई हैं ताकि कमांडरों को आइसोलेशन केंद्र से लेकर अस्पताल बनाने तक कोई भी सामान खरीदने के लिए असुविधा का सामना न करना पड़े। सिंह ने बताया कि डीआरडीओ, कैंटॉनमेंट बोर्ड, सशस्त्र बल चिकित्सा सेवा जैसे विभिन्न रक्षा संगठनों ने कोविड अस्पताल स्थापित किए हैं। जरूरत के हिसाब से बड़े शहरों में सशस्त्र बलों से जुड़े अस्पतालों की व्यवस्थाएं बढ़ाई जा रही हैं। दिल्ली, लखनऊ, बेंगलुरु और पटना से शुरूआत की गई है। 

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Recommended News

static