जनगणना को लेकर अमित शाह ने दिया बड़ा बयान, बोले- अगली बार होगी ई-जनगणना

punjabkesari.in Monday, May 09, 2022 - 07:48 PM (IST)

नेशनल डेस्कः केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को कहा कि देश में जनगणना प्रक्रिया के डिजिटल होने से अगली जनगणना कवायद के दौरान 100 फीसदी सटीक गणना की उम्मीद की जा सकती है। उन्होंने कहा, '' अगली जनगणना ई-मोड के जरिये की जाएगी, जिससे 100 फीसदी सटीक गणना होगी और इसके आधार पर अगले 25 साल के लिए देश के विकास की योजनाएं बनाई जाएंगी।''

गृह मंत्री ने कहा, ''जनगणना कई मायनों में अहम है। असम जैसे राज्य के लिए यह और भी महत्वपूर्ण है जोकि आबादी के लिहाज से संवेदनशील है।'' कोविड-19 महामारी के चलते जनगणना प्रक्रिया में देरी हुई है। यहां जनगणना अभियान (असम) महानिदेशालय के कार्यालय भवन का उद्घाटन करने के बाद शाह ने देश की विकास योजनाओं के बेहतर नियोजन के लिए सटीक गणना के महत्व पर जोर दिया।

इससे पहले शाह ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी असम के बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र (बीटीआर) के समग्र विकास के लिए प्रतिबद्ध है और केंद्र तथा राज्य सरकार दोनों बोडो समझौते के 90 प्रतिशत प्रावधानों को पूरा कर रहे हैं। बीटीआर में असम के बोडो समुदाय के बाहुल्य वाले जिले आते हैं।

शाह ने कहा कि सात वर्ष पहले भाजपा ने असम की सीमाओं से उग्रवाद समाप्त करने का वादा किया था और गृह मंत्रालय ने प्रधानमंत्री मोदी के मार्गदर्शन में अधिकतर उग्रवादी संगठनों से शांति समझौता किया है। उन्होंने कहा कि अब तक 9,000 उग्रवादी आत्मसमर्पण कर चुके हैं। केंद्र सरकार ने जनवरी 2020 में बोडो शांति समझौते पर हस्ताक्षर किये थे।

शाह ने यहां खादी और ग्रामोद्योग विभाग के एक केंद्र का उद्घाटन तथा केंद्रीय सशस्त्र अर्द्धसैनिक बल के लिए एक केंद्रीय कार्यशाला एवं भंडारगृहों का शिलान्यास करने के बाद कहा कि दोनों ‘आत्मनिर्भर भारत' के उदाहरण हैं और युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करेंगे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Related News

Recommended News