‘चचाजान’ पर छिड़ा घमासान, टिकैत के बयान पर भड़की AIMIM-BJP...पूछा-मुजफ्फरनगर के वक्त कहां थे?

2021-09-15T14:12:32.027

नेशनल डेस्क: उत्तर प्रदेश में ‘अब्बाजान पर छिड़ा सियासी घमासान अभी शांत नहीं हुआ था कि ‘चचाजान’ सुर्खियों में आ गए हैं। भारतीय किसान यूनियन (BKU) के नेता राकेश टिकैत ने AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी को भाजपा का ‘चचाजान’ बताया है। राकेश टिकैत ने हापुड़ के एक कार्यक्रम में भाषण के दौरान असदुद्दीन ओवैसी को भाजपा का चचाजान बताया और कहा कि भाजपा उनपर कोई केस नहीं करती है। टिकैत ने कहा कि वो असदुद्दीन ओवैसी को वही बुला रहे हैं, जो गांव के लोग कह रहे हैं, जहां-जहां चुनाव होंगे, वहां-वहां भाजपा के चचाजान आएंगे।

PunjabKesari

AIMIM ने साधा टिकैत पर निशाना
AIMIM के प्रवक्ता असीम वकार ने टिकैत के बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि BKU नेता कितने सेक्युलर हैं, ये हमारे लोगों से बेहतर कोई नहीं जानता। यह 2017, 2019 के चुनाव में भाजपा के लिए काम कर रहे थे, आज मंच से खड़े होकर नारे लगवा रहे हैं, लेकिन जब मुजफ्फरनगर में दंगा हुआ तब ये कहां थे? राकेश टिकैत के बयान को लेकर उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी निशाना साधा।

PunjabKesari

मौर्य ने कहा कि योगीजी ने अब्बाजान शब्द का इस्तेमाल किसी और संदर्भ में किया था, लेकिन टिकैत अपनी रैलियों में लोगों को बुलाकर अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगवा रहे हैं। मौर्य ने कहा कि उत्तर प्रदेश तुष्टिकरण की राजनीति से काफी दूर जा चुका है और 2022 का चुनाव विकास के मुद्दे पर होगा। इस मामले में कांग्रेस प्रवक्ता सुरेंद्र राजपूत की तरफ से भी प्रतिक्रिया आई है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा जहां भी परेशानी में पड़ती है वहां-वहां ओवैसी उनकी मदद करने आ जाते हैं, इसलिए वह भाजपा के चचाजान हैं।

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Recommended News