दुखद: कोरोना से जंग हारी 14 दिन की बच्ची, प्लाज्मा से भी नहीं बच पाई जान

punjabkesari.in Friday, Apr 16, 2021 - 04:12 PM (IST)

नेशनल डेस्क: कोरोना का कहर इस बार छोटे बच्चों पर ज्यादा बरप रहा है। गुजरात के सूरत से एक ऐसी ही दुखद खबर सामने आई है। सूरत में 14 दिन की बच्ची कोरोना की चपेट में आ गई। डॉक्टर उसे बचा नहीं पाए। बच्ची को प्लाज्मा भी चढ़ाया गया लेकिन वो मौत से जंग हार गई। दरअसल बच्ची की मां में कोरोना के लक्षण थे लेकिन उसने किसी को भी यह बात नहीं बताई। महिला कोरोना संक्रमित होते हुए भी अपना दूध बच्ची को पिलाती रही जिससे वो नवजात भी कोरोना की चपेट में आ गई। बच्ची को सूरत के वराछा स्थित डायमंड अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे बचाने की पूरी कोशिश की। बच्ची को प्लाज्मा भी चढ़ाया गया लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका।

 

बता दें कि इससे एक दिन पहे गुरुवार को भी सूरत के न्यू सिविल अस्पताल में 14 दिन के बच्चे की कोरोना से मौत हो गई थी। सूरत में अब तक तीन बच्चों की कोरोना से मौत हो चुकी है। अहमदाबाद सिविल अस्पताल के डाक्टरों के मुताबिक पिछली बार के मुकाबले इस बार ज्यादा युवा और बच्चे कोरोना की चपेट में आ रहे है और 15 प्रतिशत सिर्फ युवा मरीजों क मौत हुई है। 

 

अन्य राज्यों में भी बच्चे कोरोना से पीड़ित
दिल्ली में भी बच्चे कोरोना की चपेट में ज्यादा आ रहे हैं। बच्चों में कोरोना के इतने गंभीर लक्षण हैं कि उनको अस्पताल में भर्ती करना पड़ रहा है। लोकनायक अस्पताल में कोरोना से गंभीर आठ बच्चे भर्ती हैं जिनकी उम्र 8 से 12 साल के बीच है। इन बच्चों को तेज बुखार, डायरिया, न्यूमोनिया और स्वाद का नहीं पता लगने जैसे लक्षण बताए जा रहे हैं। गाजियाबाद में तो इससे भी ज्यादा बुरे हाल हैं। गाजियाबाद में 130 बच्चे कोरोना संक्रमित हैं। वहीं हरियाणा में आठ प्रतिशत बच्चे कोरोना से संक्रमित हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News