12 साल के बच्चे ने 15 मिनट के अंदर सीखा LED बल्ब बनाना, अब खड़ा किया बिजनेस

2021-09-15T17:45:03.5

पीएम मोदी के आत्मनिर्भर भारत के तहत देश की युवा नौकरी की बजाय व्यवसाय में कदम रख रही हैं। इसी बीच एक 12 साल के नन्हें व्यवसायीने  अपने काम के जरिये देश भर के युवाओं को प्रेरित किया। 

अरुणाचल प्रदेश में सातवीं कक्षा में पढ़ने वाले 12 साल के नगुरंग ताया अपने पिता के नक्शेकदमों पर चलते हुए एलईडी बल्ब का बिजनेस करते हैं। नगुरंग ने एलईडी बल्ब की मरम्मत का हुनर अपने पिता की देखरेख में ही सीखा है।

एक न्यूज़ एजेंसी से बात करते हुए नगुरंग ताया के पिता राजेश का कहना है कि उनके बेटे ने एक बार जिद की कि वो एलईडी बल्ब को खोलकर देखना चाहते हैं। राजेश ने नगुरंग ताया के सामने बल्ब को खोलकर दिखाया और उसके बाद नगुरंग ने उनसे  बल्ब के निर्माण के बारे में सवाल करने शुरू कर दिये। जिसके बाद राजेश ने बेटे को बल्ब के निर्माण की प्रक्रिया समझाई।

PunjabKesari

अब ‘किमिन’ एलईडी बल्ब को ब्रांड बनाने की दिशा में काम कर रहे हैं
जिसके बाद इतनी छोटी सी उम्र में एलईडी ब्लब बना कर  नगुरंग ताया अपने चचेरे भाई नगुरंग निया के साथ  मिलकर यह कारोबार चला रहे हैं। ये दोनों भाई अब ‘किमिन’ एलईडी बल्ब को एक ब्रांड बनाने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। 

 15 मिनट के अंदर सीखा एलईडी बल्ब बनाना, अब खड़ा किया बिजनेस
राजेश के अनुसार उनके पहली बार बताने के साथ ठीक 15 मिनट के भीतर ही नगुरंग ताया ने एलईडी बल्ब का निर्माण करना सीख लिया था और उसके बाद से वो लगातार एलईडी बल्ब  बना रहे हैं। नगुरंग ताया का सपना है कि उनके ब्रांड को पूरे भारत में लोग इस्तेमाल करें।

PunjabKesari

नगुरंग ताया  एक साल की गारंटी के साथ बेचते है अपने एलईडी बल्ब 
नगुरंग ताया द्वारा तैयार किए गए एलईडी बल्ब को स्थानीय विक्रेताओं द्वारा भी अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। इससे संबंधित कुछ खरीददारों ने बताया है कि 9 वाट के इस बल्ब की कीमत सामान्य से कम है ऐसे में लोगों द्वारा यह बल्ब खरीदना आसान है। इतना ही नहीं, नगुरंग ताया के इन एलईडी बल्ब के साथ ग्राहकों को एक साल तक की गारंटी भी मिलती है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anu Malhotra

Recommended News