उपभोक्ता विश्वास अभी महामारी-पूर्व के स्तर पर नहीं लौटा: रिजर्व बैंक अध्ययन

punjabkesari.in Monday, Jan 17, 2022 - 09:43 PM (IST)

मुंबई, 17 जनवरी (भाषा) भारतीय रिजर्व बैंक के एक अध्ययन में कहा गया है कि उपभोक्ता विश्वास अब भी कोविड-पूर्व के स्तर पर नहीं लौट पाया है।
रिजर्व बैंक के सोमवार को जारी मासिक बुलेटिन में इस बात का उल्लेख है कि महामारी की लगातार आई लहरों ने उपभोक्ता विश्वास को बुरी तरह से प्रभावित किया है। यह मई, 2021 में दूसरी लहर के चरम पर रहते समय 48.5 के अब तक के सबसे निचले स्तर पर आ गया था।
अमेरिका, ब्रिटेन, जापान, चीन, रूस, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका की सात बड़ी अर्थव्यवस्थाएं भी महामारी से प्रभावित रही हैं, लेकिन इसका सबसे अधिक असर भारत पर पड़ा है। महामारी की दूसरी लहर में देश में महामारी की वजह से सबसे अधिक मौतें हुई थीं।
रिजर्व बैंक के बुलेटिन ‘कोविड-19 महामारी का उपभोक्ता विश्वास पर प्रभाव’ में कहा गया है कि ज्यादातर देशों में उपभोक्ता विश्वास में एक बड़ी गिरावट देखी गई। धीरे-धीरे विश्वास फिर बढ़ना शुरू हुआ। हालांकि, अधिकांश देशों में उपभोक्ता भरोसा अभी भी महामारी-पूर्व के स्तर पर नहीं लौट पाया है।
केंद्रीय बैंक ने कहा कि टीकाकरण में तेजी पुनरुद्धार में मदद कर सकती है, लेकिन महामारी की बार-बार आने वाली लहरों से दीर्घावधि में उपभोक्ता विश्वास पर असर पड़ सकता है। खासकर व्यापार और रोजगार स्थितियों से जुड़ी अनिश्चितताओं के चलते उपभोक्ता भरोसा डगमगा सकता है।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News