अंतिम राजनयिक की वापसी के बाद लिथुआनिया ने चीन में अपना दूतावास किया बंद

punjabkesari.in Wednesday, Dec 15, 2021 - 11:27 PM (IST)

विलनियसः लिथुआनिया ने बुधवार को कहा कि उसने बीजिंग में अपना दूतावास बंद कर दिया है और अपने आखिरी बचे राजनयिक की चीनी राजधानी से वापस बुला लिया है। यूरोपीय संघ के इस देश द्वारा ताइवान को अपनी राजधानी विनियस में एक प्रतिनिधि कार्यालय खोलने की अनुमति देने पर विवाद के बीच यह कदम उठाया गया। 

लिथुआनियाई विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि बाल्टिक देश चीन में अपनी राजनयिक गतिविधियों को जारी रखेगा, जो ताइवान पर अपने क्षेत्र के हिस्से के रूप में दावा करता है और उन देशों को राजनयिक मान्यता नहीं देता है जो द्वीप को एक अलग राष्ट्र के रूप में देखते हैं। मंत्रालय ने कहा कि उसने परामर्श के लिए बीजिंग में लिथुआनिया के प्रभारी राजदूत - दूतावास के उप प्रमुख - को वापस बुला लिया था। 

विदेश मंत्रालय ने कहा, “चीन में लिथुआनिया के राजनयिक प्रतिनिधित्व के संचालन के तकनीकी पहलुओं और लिथुआनिया में चीन के प्रतिनिधित्व पर और चीन के निर्णय के लंबित रहने तक चीन में लिथुआनियाई राजनयिकों की मान्यता को नवीनीकृत करने पर चर्चा चल रही है।” मंत्रालय ने कहा कि लिथुआनिया "चीन के साथ बातचीत जारी रखने और एक बार पारस्परिक रूप से लाभप्रद समझौते पर पहुंचने के बाद दूतावास के कार्यों को पूरी तरह से बहाल करने के लिए तैयार है।'' 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News