संयुक्त राष्ट्र में  ईरान ने अफगानिस्तान में आतंकवादी समूहों के पुनरुत्थान पर जताई चिंता

punjabkesari.in Saturday, Oct 01, 2022 - 03:08 PM (IST)

न्यूयॉर्क: दुनिया के कई देश तालिबान नियंत्रण करने के बाद अफगानिस्तान में आतंकवादी समूहों के पुनरुत्थान पर चिंतित हैं। ईरान ने भी संयुक्त राष्ट्र में तालिबान राज में अफगानिस्तान में पनप रहे आतंकवादी संगठनों को लेकर चिंता जताई है। खामा प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, ईरान ने  चेतावनी देते हुए कहा कि अफगानिस्तान में आतंकवाद क्षेत्रीय और वैश्विक सुरक्षा के लिए खतरा है।

 

संयुक्त राष्ट्र में ईरान के राजदूत और उप स्थायी प्रतिनिधि ज़हरा इरशादी के अनुसार, अफगानिस्तान में आतंकवाद का फिर से उभरना क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षा दोनों के लिए खतरा है। खामा प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार ईरानी अधिकारी ने आतंकवाद से लड़ने पर जोर दिया और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक के दौरान कहा कि तालिबान को इस उद्देश्य के लिए अपनी प्रतिबद्धता को कायम रखना चाहिए।

 

उन्होंने जोर देते हुए कहा कि  तालिबान को अफगानिस्तान में राजनयिक स्थानों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए, ताकि अफगानिस्तान  फिर अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी समूहों के लिए एक अभयारण्य नहीं बनना चाहिए। द खामा प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार इरशादी ने आगे तालिबान से अफगानिस्तान में एक समावेशी प्रशासन स्थापित करने का आह्वान किया। उन्होंने बताया कि अफगानिस्तान में समावेशी प्रशासन एक बड़ी जरूरत है, और उन्होंने दुनिया के नेताओं से इस तरह से अपनी प्रतिज्ञाओं का सम्मान करने करना चाहिए। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News