IMF ने कंगाल पाकिस्‍तान के बढ़ते कर्ज  को लेकर फिर जारी की चेतावनी

punjabkesari.in Saturday, Dec 02, 2023 - 02:05 PM (IST)

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के बढ़ते कर्ज को लेकर  अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने एक बार फिर डराने वाली चेतावनी जारी की है। IMF ने कहा है कि अगले साल जून के अंत तक पाकिस्तान का कर्ज बढ़करऔर अधिक गंभीर रूप से सकता है । पाकिस्तान को  कई बार डिफॉल्ट से बचाने वाली संस्था IMF ने अनुमान लगाया है कि अगले साल 30 जून को समाप्त होने वाले चालू वित्तीय वर्ष के अंत तक पाकिस्तान का कर्ज बढ़कर 82 लाख करोड़ रुपए हो सकता है। IMF के आकलन मुताबिक कुल सार्वजनिक ऋण और देनदारियों के में वृद्धि की रफ्तार जारी रहेगी। यह वित्त वर्ष 2024-25 में बढ़कर 92.24 लाख करोड़ रुपये हो सकती है।

 

पिछले महीने, पाकिस्तान और  IMF ने आर्थिक और वित्तीय नीतियों के ज्ञापन (MEFP ) पर आम सहमति विकसित करके एक कर्मचारी-स्तरीय समझौते को अंतिम रूप दिया था। इस समझौते में 3 अरब डॉलर की स्टैंडबाय व्यवस्था के तहत 700 मिलियन डॉलर की किश्त जारी करने के लिए आईएमएफ के कार्यकारी बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। सहमत राजकोषीय ढांचे से पता चला है कि आईएमएफ सहित सरकार द्वारा गारंटीकृत ऋण, इस वित्तीय वर्ष के अंत तक 81.836 ट्रिलियन रुपये तक पहुंचने की उम्मीद थी। सितंबर के अंत तक कर्ज 77.9 लाख करोड़ रुपये था।

 

वित्तीय वर्ष 22-23 में पाकिस्तान का कुल सार्वजनिक ऋण और देनदारियां 68 ट्रिलियन रुपये थीं। यदि अनुमान सही साबित होते हैं तो इसका मतलब यह होगा कि चालू वित्त वर्ष में सार्वजनिक ऋण और देनदारियां 11.8 ट्रिलियन रुपये बढ़ जाएंगी। बढ़ते राजकोषीय घाटे के कारण कुल सार्वजनिक ऋण और देनदारियां कई गुना बढ़ जाएंगी। आईएमएफ का अनुमान है कि चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा 8.227 लाख करोड़ रुपये तक बढ़ जाएगा, जो सकल घरेलू उत्पाद के 7.8% के बराबर है।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Recommended News

Related News