दक्षिण चीन सागर में अमेरिका-ऑस्ट्रेलिया के युद्धभ्यास से चिढ़ा चीन

2021-06-12T10:36:31.53

बीजिंग:  चीन ने शुक्रवार को अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया के दक्षिण चीन सागर में हालिया नौसेना अभ्यास पर आपत्ति जताई व इसको ‘शक्ति प्रदर्शन' करार दिया। चीन रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण इस जलीय क्षेत्र पर अपना दावा करता रहता है। अमेरिका की नौसेना के सातवें बेड़े ने बताया कि निर्देशित मिसाइल विध्वंसक यूएनएस कर्टिस विलबर और रॉयल ऑस्ट्रेलियन नेवी (नौसेना) के योद्धपोत एचएमएएस बलाराट ने दक्षिणी चीन सागर में एक सप्ताह का संयुक्त अभियान पूरा किया।

 

इसमें जहाजों की फिर से आपूर्ति, हेलीकॉप्टर अभियान के प्रभाव की जांच और गोले दागने जैसे अभ्यास शामिल थे। दैनिक सम्मेलन में चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि दोनों देशों को ‘ऐसी चीजें करनी चाहिए, जो क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के लिए उचित हो न कि यहां शक्ति प्रदर्शन करना चाहिए।'' अमेरिका और चीन के पड़ोसी देश पूरे दक्षिणी चीन सागर पर उसके दावे को ख़ारिज करते हैं। इस क्षेत्र से सालाना क़रीब 5 खरब अमेरिकी डॉलर का कारोबार होता है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Recommended News