See More

मां ने अधूरा सपना किया पूरा, बेटे के साथ पास की 10वीं की परीक्षा

2020-08-01T11:44:55.407

नई दिल्ली- अगर किसी भी लक्ष्य को हासिल करना है तो यह मायने नहीं रखता कि कहां रहते या और कौन सा काम करते है। लक्ष्य को पाने के लिए यह मायने रखता है कि आप अपने उसके लिए कितने ईमानदार हैं और उसे पाने के लिए कितनी कड़ी मेहनत  करते हैं। यह ख़बर है महाराष्ट्र के बारामती की जहां के रहने वाले मां बेटे ने एक साथ दसवीं की परीक्षा में पास कर मिसाल कायम की है।

PunjabKesari

सिलाई के साथ पास की 10 वीं की परीक्षा 
मां ने घर का काम और कंपनी में सिलाई का काम करते हुए दसवीं की परीक्षा में पास की जो कि नौजवानों के लिए एक प्रेरणा है। बात कर रहे है बारामती की रहने वाली एक बेटे की मां बेबी गुरव की जो कि टेक्सटाइल पार्क में पायनियर कैलिकोज़ कंपनी में सिलाई का काम करती हैं।

PunjabKesari

पारिवारिक कारणों से रह गई 10 वीं 
बेबी गुरव की पारिवारिक कारणों से 10 वीं पास करने का सपना अधूरा रह गया था। कई बार उन्होंने पढ़ाई पूरी करने की सोची, मगर हालात खराब होने के कारण ये मुमकिन नहीं हो पा रहा था। जब उनका लड़का सदानंद दसवीं कक्षा में पढ़ रहा था, तब उनके मन में फिर से पढ़ाई की इच्छा हुई, उनके पति प्रदीप ने काफी प्रोत्साहि‍त किया। पति के प्रोत्साहन और बेटे का साथ मिला तो उन्होंने दोबारा किताबें उठाईं और पढ़ाई शुरू कर दी।

PunjabKesari

बेबी गुरव ने मैट्रिक परीक्षा के साथ घर का काम संभालते हुए और कंपनी में सिलाई का काम करते हुए बेबी को जितना भी खाली वक्त मिला, वो तैयारी में लगी रहीं। इस तरह उन्होंने अपने बेटे के साथ दसवीं की परीक्षा दी। 


 


Author

Riya bawa

Related News