बाबा बर्फानी के वर्चुअल दर्शन, पूजन करने के लिए ऑनलाइन सुविधा शुरू

punjabkesari.in Monday, Jul 04, 2022 - 10:54 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

जम्मू/श्रीनगर (सतीश): दुनिया भर से इस वर्ष जो वार्षिक बाबा बर्फानी की यात्रा के लिए भक्त नहीं आ सकते उनके लिए श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड द्वारा वर्चुअल पूजा, वर्चुअल हवन, प्रसाद बुकिंग की व्यवस्था की है ताकि भक्तों को पवित्र गुफा की भक्ति और आनंद का व्यक्तिगत अनुभव हो। 

यह बताया गया कि भक्त अपनी पूजा, हवन और प्रसाद ऑनलाइन बुक कर सकते हैं, और पवित्र गुफा के पुजारी इसे भक्त के नाम पर चढ़ाएंगे, इसके अलावा प्रसाद बाद में भक्तों के दरवाजे पर वितरित किया जाएगा। इस अवसर पर, एस.ए.एस.बी. के सी.ई.ओ., नीतीश्वर कुमार ने कहा है कि ऑनलाइन सेवाओं को श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड की वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन पूजा / हवन / प्रसाद लिंक पर क्लिक करके और बोर्ड के मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से बुक किया जा सकता है।

1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं । अपनी जन्म तिथि अपने नाम , जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर वाट्स ऐप करें

वर्चुअल पूजा की व्यवस्था और शुल्क
वर्चुअल पूजा के लिए 1100 रुपये, प्रसाद बुकिंग के लिए 1100 रुपये (5 ग्राम के श्री अमरनाथजी के चांदी के सिक्के के साथ) और 10 ग्राम सिक्के के साथ प्रसाद के लिए 2100 रूपए और विशेष हवन के लिए भक्तों को 5100 रुपए का भुगतान करना होगा। वर्चुअल पूजा या हवन पुजारी द्वारा गुफा मंदिर में मंत्रों और श्लोकों के जाप के साथ भक्त के नाम और गोत्र का उच्चारण करके किया जाएगा। 

उन्होंने कहा कि उपलब्ध प्रौद्योगिकी और डिजिटलीकरण के उपयोग को अधिकतम करते हुए, भक्तों को जियो मीट एप्लिकेशन के माध्यम से एक वर्चुअल ऑनलाइन रूम में जाने दिया जाएगा, जिसमें वे भगवान शिव की विशेष आभासी पूजा और दर्शन कर सकते हैं। एस.ए.एस.बी. के सी.ई.ओ. ने कहा कि हमने 48 घंटे के भीतर प्रसाद भेजने के लिए डाक विभाग के साथ व्यवस्था की है। उन्होंने कहा कि एक बार बुकिंग हो जाने के बाद श्राइन बोर्ड भक्त के पंजीकृत मोबाइल नंबर/ई-मेल आई.डी. पर लिंक और तारीख/समय साझा करेगा। पोर्टल को श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड द्वारा राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, जम्मू-कश्मीर की मदद से विकसित किया गया है।

PunjabKesari kundli


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Related News

Recommended News