Shardiya Navratri 2022: रंग-बिरंगे फूलों से सज गए शक्तिपीठ

punjabkesari.in Monday, Sep 26, 2022 - 10:00 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

कटड़ा/चिंतपूर्णी/ऊना (अमित,सुनील/सुरेंद्र): सोमवार से शुरू हो रहे शारदीय नवरात्रों को लेकर शक्तिपीठों को रंग-बिरंगे फूलों से सजा दिया गया है। वैष्णो देवी भवन को प्राकृतिक फूलों व फलों से सजाया गया है। इस सजावट में देवी-देवताओं की मूर्तियां भी मुख्य आकर्षण का केंद्र बनी हुई हैं। सजावट के लिए न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया व श्रीलंका से फूलों को मंगवाया गया है।
 
वैष्णो देवी यात्रा के अन्य पड़ाव जैसे अर्धकुंवारी, सांझीछत, चरणपादुका, दर्शनी ड्योढ़ी को भी विशेष रूप से श्रद्धालुओं के स्वागत के लिए सजाया जा चुका है। वहीं नवरात्रों के उपलक्ष्य पर भवन पर श्राइन बोर्ड के सौजन्य से होने जा रहे शतचंडी महायज्ञ की तैयारियां भी लगभग मुकम्मल हो चुकी हैं। सोमवार सुबह आरती के उपरांत विद्वानों द्वारा मंत्रोच्चारण के साथ शतचंडी महायज्ञ की शुरूआत की जाएगी। 9 दिनों तक चलने वाले इस शतचंडी महायज्ञ में विद्वान प्रतिदिन मंत्रोच्चारण के साथ देश की खुशहाली व शांति की कामना करेंगे।

1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं। अपनी जन्म तिथि अपने नाम, जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर व्हाट्सएप करें

सी.ई.ओ. श्राइन बोर्ड अंशुल गर्ग ने बताया कि इस बार नवरात्र के दौरान वैष्णो देवी यात्रा मार्ग के विभिन्न स्थानों पर श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए सैल्फी प्वॉइंट भी बनाए गए हैं। यात्रा मार्ग पर बने भोजनालय आदि की विशेष व्यवस्था श्राइन बोर्ड प्रशासन द्वारा की गई है। 

इसी तरह चिंतपूर्णी में शारदीय नवरात्रों को लेकर मंदिर न्यास तथा जिला प्रशासन ने मेले की तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया है।
 26 सितम्बर से 5 अक्तूबर तक मेले का आयोजन होगा। चिंतपूर्णी मंदिर को रंग-बिरंगे फूलों से सजाया गया है। यह कार्य दिल्ली के एक श्रद्धालु द्वारा करवाया गया है। मंदिर अधिकारी बलवंत पटियाल व ए.टी.ओ. अशोक डोगरा ने कहा कि श्रद्धालुओं को दर्शन करने के लिए 5 स्थानों पर एल.ई.डी. स्थापित की गई हैं।

PunjabKesari kundlitv


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Related News

Recommended News