इन उपायों के करने से मिलेगी शनिदेव के साथ-साथ बजरंगबली की भी कृपा

11/18/2019 11:22:43 AM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
हिंदू पंचांग के अनुसार शनिवार का दिन शनिदेव की पूजा का दिन होता है। लेकिन ऐसी मान्यता है कि इस दिन शनिदेव के साथ-साथ हनुमान जी की कृपा को भी प्राप्त किया जा सकता है। जिन लोगों पर शनिदेव की कृपा रहती है, वे सदैव प्रसन्न व उन्नति प्राप्त करते हैं। लेकिन बहुत से लोग ऐसे होते हैं, जिन्हें शनि की कृपा पाने के लिए कई तरह के उपाय व पूजन करने पड़ते हैं। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं, उनसे जुड़े कुछ उपायों के बारे में जिनको करने से आप शनि के साथ-साथ हनुमान जी की कृपा को भी पा सकते हैं।  
PunjabKesari, shani and hanuman
शनिदेव की कृपा पाने के लिए हर शनिवार को सुंदरकांड का पाठ करें। अगर संभव न हो तो शनिवार के दिन सुंदरकांड का पाठ आरंभ करें और शुक्रवार के दिन उसका समापन करें। इससे शनि के साथ आपको हनुमान जी की कृपा भी मिलेगी। 

शुक्रवार की रात में सवा किलो काले चने भिंगोने के लिए रख दें। शनिवार को चने को काले कपड़े में एक कोयला, चुटकी भर सिंदूर और एक सिक्का बांधकर यमुना या किसी भी पवित्र नदी में प्रवाहित कर दें। ये उपाय कम से कम आठ शनिवार करने का विधान है।
PunjabKesari, shani and hanuman
अगर आप शनि की साढ़ेसत्ती से बचना चाहते हैं तो शनिवार के दिन किसी लोहे के बर्तन में सरसों का तेल भरकर उसमें अपना चेहरा देखें। इसके बाद इस तेल को बर्तन सहित किसी जरूरतमंद को दान कर दें और ध्यान दें कि दान लेने वाला व्यक्ति गरीब और बुजुर्ग ही हो।

शनिवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने से भी व्यक्ति के सारे दुख दूर हो सकते हैं। नित्य रूप से सुबह और शाम को करने से हनुमान जी की विशेष कृपा प्राप्त होती है। यानि शनि व हनुमान दोनों की कृपा मिलती है।
PunjabKesari, shani and hanuman
हर दिन 108 बार शनि महाराज के मंत्र ओम प्रां प्रीं पौं सः शनैश्चराय नमः का जाप करें। कहते है कि इस मंत्र जाप से व्यक्ति की हर परेशानी का हल होता है। इसके साथ ही कुंडली में चल रहा शनि दोष भी खत्म होता है।  


Lata

Related News