Earthquake: 5 ग्रहों की युती से हिल रही है धरती

02/13/2021 6:47:14 AM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Today's Earthquakes in India: 14 जनवरी, 2021 मकर संक्रांति के दिन 5 ग्रहों का मकर राशि में संगम हुआ था। सूर्य देव गुरु बृहस्पति की धनु राशि से शनि की मकर राशि में प्रवेश कर गए थे। चंद्रमा, शनि, बुध व गुरु वहां पहले से ही विराजमान थे। 5 ग्रहों की युती एकसाथ हुई थी। मकर ग्रह में हुई इस युति के कारण हिल रही है धरती। इसका पहला केंद्र अफगानिस्तान था। काबुल के उत्तर-पूर्व में अफगानिस्तान के हिंदू कुश क्षेत्र में 4.9 तीव्रता का भूकंप आया था। इसके बाद न्यूजीलैंड, वनुआतू, फिजी और अन्य प्रशांत द्वीप के लिए सुनामी की चेतावनी घोषित की गई थी।

PunjabKesari Earthquake Prediction

Earthquake Today: वैसे तो पूरे उत्तर भारत में शुक्रवार की शाम करीब 10.34 मिनट पर आए हैं भूकंप के झटके लेकिन भूकंप का दूसरा केंद्र पंजाब का अमृतसर शहर रहा। जहां एक के बाद एक दो झटके आए।

Earthquakes and Planetary position: भूकंप का ज्योतिष से सीधा कनेक्शन है दरसल शुक्रवार को मकर राशि में चार ग्रहों का योग बना हुआ था। शुक्र, बुध, गुरु और शनि मकर राशि से गोचर कर कर रहे हैं। सूर्य और चन्द्रमा एक ही राशि में थे, इसके अलावा सारे ग्रह राहु और केतु के मध्य थे। वर्तमान समय में कालसर्प योग भी बना हुआ है।

PunjabKesari Earthquake Prediction

Predictions Spot On For Earthquakes: सामान्य तौर पर भूकंप सूर्य और शनि के कारण आता है। जब भी सूर्य को ग्रहण लगता है और शनि वक्री अवस्था में होते हैं तो भूकंप की स्थिति बनती है। शनि इस समय अस्त चल रहे हैं। जबकि सूर्य खुद शनि की राशि में विराजमान हैं। धरती का कारक तत्व चन्द्रमा है। जिस समय भूचाल आया, उस वक्त धरती तत्व की राशि कन्या का उदय हो रहा था। ये भी भूकंप का 1 बड़ा कारण माना जा रहा है।

PunjabKesari Earthquake Prediction

Vedic astrology and earthquake: शनि, शुक्र, बुध और गुरु अस्त स्थित में चल रहे थे और अभी भी गुरु और शुक्र अस्त स्थिति में ही हैं।  गुरु, शुक्र और बुध तीनों ग्रह पिछले कुछ दिन से शनि और सूर्य के साथ पीड़ित अवस्था में चल रहे थे। पाप ग्रहों का प्रभाव बढ़ने और कालसर्प योग की स्थिति बनने के कारण एक साथ दो स्थानों पर भूकंप आया है।

PunjabKesari Earthquake Prediction

 

 

 

 

 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Recommended News