तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डा अडानी ग्रुप के हाथों में, स्थानीय सांसद थरूर को बेहतरी की आस

10/15/2021 10:40:42 PM

तिरुवनंतपुरमः कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने शुक्रवार को कहा कि अडानी ग्रुप द्वारा तिरुवनंतपुरम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का संचालन एवं प्रबंधन अपने हाथ में लेने के बाद वह बेहतरी की उम्मीद कर रहे हैं। तिरुवनंतपुरम के सांसद ने कहा कि यदि ग्रुप केरल के राजधानी शहर तिरुवनंतपुरम और उसके आसपास के विकास को ध्यान में रखकर काम करता है तो लोग उसका समर्थन करेंगे। 
PunjabKesari
उन्होंने कहा कि विकास हड़तालों के जरिए धरातल पर नहीं उतरता है, तिरुवनंतपुरम की प्रगति के लिए यहां से संचालित उड़ानों एवं विमानों की संख्या बढ़ाने के साथ साथ साफ-सुथरा हवाई अड्डा एवं उच्च मानदंड वाले उपकरणों की जरूरत है। हवाई अड्डों के निजीकरण के पक्ष में अपना विचार सामने रखते हुए थरूर ने कहा, ‘‘ मैं बेहतरी की उम्मीद करते हुए आगे बढ़ता हूं।'' 

ग्रुप द्वारा इस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का प्रबंधन अपने हाथ में लेने की घोषणा करने के एक दिन बाद कांग्रेस सांसद ने कहा कि यदि निजी कंपनी लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरती है तो उसे उनका समर्थन मिलेगा। वैसे केरल के सत्तारूढ़ वाम लोकतांत्रिक मोर्चा एवं कांग्रेस नीत विपक्षी संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा ने अडानी ग्रुप को इस हवाई अड्डे को सौंपे जाने का विरोध कया है लेकिन थरूर अपने इस रूख पर कायम हैं कि निजीकरण से शहर एवं उसके आसपास के क्षेत्रों का विकास होगा। अपने इस रूख से वह न केवल वामदलों बल्कि अपनी पार्टी कांग्रेस के निशाने पर भी हैं। 

अभिनेता से नेता बने और राज्यसभा सदस्य सुरेश गोपी ने भी हवाई अड्डे के निजीकरण का स्वागत किया। उन्होंने कहा, ‘‘ यह सकारात्मक कदम है। '' हवाई अड्डे को इस ग्रुप का बेचे जाने के आरोप का खंडन करते हुए गोपी ने कहा कि बस हवाई अड्डे का प्रशासन उसे दिया गय है। पिछले साल केरल विधानसभा ने इस हवाई अड्डे के निजीकरण के विरूद्ध प्रस्ताव पारित किया था और मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने अडानी ग्रुप द्वारा इसे लिये जाने की आलोचना की थी। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News